एक चित्रकार ने एक चित्र बनाया ,यह थोडा अजीब था.इसमें उसने एक ऐसे व्यक्ति के सिर को दर्शाया था जिसके अगले भाग पर बहुत सारे बाल थे पर इसका पिछला  हिस्सा बिलकुल सपाट और गंजा था.लोग इसके चित्र पर बहुत हँसे, कई लोगो ने कहा चित्रकार बलकुल पागल लगता है इसे  नहीं मालुम  कि किसी भी गंजे व्यक्ति के सिर के अगले हिस्से पर इतने बाल नहीं हो सकते .

एक पत्रकार ने उससे पूछ ही लिया कि आखिर ऐसी तस्वीर उसने क्यों बनायीं तो चित्रकार ने कहा -‘ मैंने यह अवसर का चित्र बनाया है .इस चित्र में मैंने बाल प्रतीकात्मक रूप से दिखाया है कि अवसर जब भी आये तो उसे सामने से पकडे तो उसे बहुत आसानी से पकड़ा जा सकता है अगर आपने देरी कर दी और यह आगे चला गया तो फिर यह पकड़ में नहीं आएगा क्योंकि इसका पिछला हिस्सा  बिलकुल चिकना और सपाट होता है फिर आप चाह कर भी इसे नहीं पकड़ सकते क्योंकि जब भी पकड़ने की कोशिश करेगे आप फिसल जायेगे  .’

gaurtalab

 बीता हुआ अवसर कभी लौट कर नहीं आता इसलिए  इसे हमेशा सामने से पकड़िये अगर यह आपके लिए अच्छा रहा तो इसके साथ रहिये  वरना अगले का इन्तजार करिये .