संदिप महेश्वरी  उन करोड़ो लोगो में से एक है जिन्होंने संघर्ष किया, असफल हुए और तेजी से सफलता, ख़ुशी और संतोष पाने के लिए आगे बढ़ते गए। वे अन्य लोगो की ही तरह साधारण परिवार से ही थे, लेकिन अपने जीवन के उद्देश को पूरा करने के लिए उनके पास बहोत सारे सपने और और उन्हें पूरा करने की दृष्टी थी। उनके पास पास जो भी था उन सभी से उन्हें सिखने की तीव्र इच्छा थी। अपने जीवन में कई बार उतार चढाव का सामना करते हुए, समय ने उन्हें जीवन का सही मतलब समझाया और आज के ज़माने के सबसे तेज़ी से उभरते हुए उद्यमियों में से एक हैं और देश के हजारों लाखों युवाओं के लिए प्रेरणास्त्रोत हैं|किस तरह अपनी कॉलेज से अधूरी पढाई किये हुए एक युवा ने अपने आप को एक सफल उद्यमी के तौर पर स्थापित किया.

Sandip Maheshwari

संदिप की करियर की शुरुवात 

इनके  परिवार का अलुमिनियम धातु का व्यापार था| किन्ही कारणों से ये व्यापार में घाटा हो गया  और इसकी भरपाई और परिवार का पूरा ज़िम्मा उन पर आ गया| एक नौजवान के तौर पर संदीप के बस में जो कुछ भी था, उन्होंने करने की कोशिश की| फिर चाहे वो घरेलु सामान बनाने वाली प्रचार कंपनी में नौकरी करना ही क्यों न हो| संदीप शिक्षा के महत्व को अच्छी तरह समझते थे| वे किरोड़ीमल कॉलेज में बी.कॉम के तीसरे वर्ष के छात्र थे, पर तब उन्होंने अपनी कॉलेज की पढाई अधूरी छोड़ दी| जब उन्होंने अपनी पढाई छोड़ी तब सोचा की  उन्हें किसी और विषय का अभ्यास करना चाहिए जिसमे उनकी रूचि हो.

इन्होने १९ वर्ष की आयु में मोडलिंग से शुरुवात की .इस चकाचौंध के पीछे मॉडलों को कितनी शर्मिंदगी और कैसी मानसिक प्रताड़ना झेलनी पड़ती है| ये देखकर उनमें कुछ बदलाव आया और शायद यहीं से उन्हें अपने जीवन का लक्ष्य मालूम पड़ा| उन्होंने अनगिनत संघर्षरत और नए मॉडलों की मदद करने की ठान ली|अपने लक्ष्य को पूरा करने के सफ़र पर वो निकल पड़े थे| उन्होंने महेज़ दो हफ्ते का फोटोग्राफी का कोर्स किया और वे एक जुनूनी और लक्ष्य के लक्ष्य को पाने को आतुर फोटोग्राफर के तौर पर तैयार थ संदीप माहेश्वरी के अन्दर कुछ नहीं बदला पर उन्होंने मॉडलिंग की दुनिया को ज़रूर बदलने का दृढ निश्चय कर लिया था| उन्होंने मैश ऑडियो विसुअल्स नाम से एक कंपनी की शुरुआत की और ये कंपनी मॉडलों के पोर्टफोलियो  बनाने का काम करती थी

इस काम को करते हुए सन 2003 में उन्होंने लगातार 10 घंटों में 10,000 से भी ज्यादा तस्वीरें खीचने का विश्व कीर्तिमान बनाया| यहाँ पर भी वे रुके नहीं, उन्होंने अपने लक्ष्य का पीछा कभी नहीं छोड़ा| वे धीरे धीरे भारत के सबसे सफल युवा उद्यमियों में से एक बन गए| संदीप ने यह साबित किया कि अगर इच्छाशक्ति हो तो एक अकेला इंसान ही अपने बूते दुनिया बदलने का माद्दा रखता है जिस तरह उन्होंने मॉडलिंग की दुनिया के समीकरणों को बदल दिया है

imagesbazar.com की शुरुवात 

२६ साल की आयु में इन्होने imagesbazar.com के नाम से अपना स्टार्टअप की शुरुवात की .आज, ImageBazaar में भारत की 1 करोड़ से भी ज्यादा फोटो है जो की विश्व में सबसे ज्यादा और साथ ही 45 देशो में 7000 से भी ज्यादा ग्राहक है। उनका ऐसा मानना था की, “फोटोग्राफी में सिर्फ काम नहीं बिकता वहा नाम भी बिकता है, और उन्हें अपना नाम कमाना था

संदीप माहेश्वरी ने मॉडलिंग की दुनिया में खुद को ही अपना आदर्श माना। क्यू की उनके अनुसार मुश्किलों और शोषण का सामना कर के एक बेहतरीन मॉडल सामने आ सकता है।

ये उनकी दुनिया बदलने वाला प्रयत्न था जब उन्हें 29 साल की आयु में युवा भारत का सबसे प्रसिद्द उद्योगपति चुना गया। बाद मे उनके विचार ही उनके भाषण का कारण बनी जैसे, “असफलता से कभी नहीं डरना” और “खुद के प्रति और दुसरो के प्रति सत्यवादी होना”।

एक सफल उद्यमी के साथ-साथ, दुनियाभर के लाखो-करोडो लोगो के सलाहकार, आदर्श और Youth Icon भी है। वे लगातार लोगो को प्रेरित करते रहे और उनका जीवन “आसान” बनाते गये और उनके इस अच्छे काम के लिए दुनिया भर से लोगो का साथ और प्यार मिलता गया।

संदिप की उपलब्धि

  • ई.टी. नाउ” टेलीविज़न चैनल द्वारा पायनियर ऑफ़ टुमारो अवार्ड
  • “बिज़नस वर्ल्ड” पत्रिका द्वारा “भारत के सबसे आशाजनक उद्यमियों में से एक” का अवार्ड|
  • विश्व युवा संघोष्टि (Global Youth Marketing Forum) द्वारा स्टार यूथ एचीवर अवार्ड Star Youth Achiever Award instituted
  • ब्रिटिश काउन्सिल द्वारा यंग क्रिएटिव एन्तेर्प्रेनेउर का अवार्ड

संदीप माहेश्वरी सिर्फ Imagesbazaar.com के संस्थापक ही नहीं बल्कि वे भारत के सबसे अच्छे प्रेरक वक्ताओं में से एक है|वे कई सेमिनारों में अपने प्रभावी भाषणों से हज़ारों युवाओं को प्रेरित कर चुके हैं.

story resource by gyanipandit.com & happyhindi.com