जिस उम्र में लोग खेल-कूद, मौज-मस्ती और पढ़ाई-लिखाई पूरी करने पर लगे होते हैं उसी उम्र में पल्लव नाधानी  ने एक सपना देखा और फिर दिन रात एक कर जुट गये उस सपने को पूरा करने में। घर परिवार, शिक्षा-दीक्षा कई बाधाएँ आई पर सबों का कुशलतापूर्वक सामना किया। और आज उनके नाम की कई उपलब्धियाँ है। राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनकी एक पहचान बन चुकी है। इन्होने  फ्यूजन चाटर्स टेक्नोलॉजि नाम से कंपनी की निंब रखी और आज गूगल ,लिंक्दीन जैसी बड़ी कंपनिया इनकी क्लाइंट है |

फ्यूजन चार्ट्स (Fusion Charts Technology) -Pallav Nadhani -Bhagalpur -BiharStory is best online digital media platform for storytelling - Bihar | India

भागलपुर (Bhagalpur, Bihar)के मारवाड़ी परिवार में जन्मे पल्लव नढ़ानी (Pallav Nadhani) को हाई स्कूल की पढ़ाई के दौरान स्कूल असाइनमेंट्स के लिए एक्सल में चाटर्स बनाना जरा भी पसंद नहीं था। इसी नापसंद ने उसके जेहन में एक इंटरैक्टिव चार्टिंग सॉल्यूशन तैयार करने के आइडिया को जन्म दिया। पल्लव ने अपने विचार को लेकर एक वेबसाइट पर कुछ लेख लिखे। उस वक्त लिखने की शुरुआत जेब खर्च हासिल करने के मकसद से हुई थी। इन लेखों के लिए उसे काफी सराहना मिली और करीब 1,23,979 रुपए (2000 डॉलर) का मेहनताना भी। 11वीं कक्षा के स्टूडेंट के लिए 1,23,979 रुपए का मेहनताना कुछ कम नहीं था। इससे 16 वर्ष के इस युवक को बड़ा प्रोत्साहन मिला। उसने अपने विचार को कारोबारी जामा पहनाने का फैसला किया और 2001 में अपनी कंपनी फ्यूजन चार्ट्स टेक्नोलॉजिज (Fusion Charts Technology) की नींव रखी।

2001 में पल्लव (Pallav Nadhani) ने अपनी कंपनी फ्यूजन चाटर्स टेक्नोलॉजि (Fusion Charts Technology) की नींव रखी। शुरुआत के तीन साल तक पल्लव ने अकेले ही प्रॉडक्ट डेवलपमेंट, वेबससाइट निर्माण, डॉक्यूमेंटेशन, सेल्स एंड मार्केटिंग और कस्टमर सपोर्ट के मोर्चे संभाले। ऑर्डर मिलने शुरू हुये तो पल्लव ने 2005 में अपना पहला ऑफिस खोला और करीब दो वर्ष के अंतराल में 20 लोगों की एक टीम खड़ी की। अब (Pallav Nadhani) को अनुभवी सलाह की भी जरुरत महसूस होने लगी क्योंकि उन्हें सरकारी नियमों और बैकिंग व फाइनेंस की ज्यादा जानकारी नहीं थी, वहीं उन्हें विदेशी क्लाइंट्स के साथ भी डील करना पड़ता था। इस परेशानी को हल करने के लिए उन्हें अपने पिता की मदद ली।

2009 में पल्लव ने कारोबार को विस्तार देने के लिए अपना ऑफिस कोलकाता के आईटी हब कहलाने वाले सॉल्ट लेक में शिफ्ट किया और टीम की संख्या 20 से बढाकर 50 की। 2010 में फ्यूजन चाटर्स (Fusion Charts Technology) का ऑफिस बेंगलुरु में खोला गया। वर्तमान में फ़्यूजन चाटर्स में 80 कर्मचारी और 25,000 से ज्यादा क्लाइंट्स हैं, जिनमें लिंक्डइन, गूगल, फेसबुक, फोर्ड जैसी कंपनियां शामिल हैं। कंपनी ने धीरे–धीरे अपने पांव पसारे और दुनिया के करीब 120 देशों के फामास्यूटिकल्स से लेकर एफएमसीजी तक और शिक्षण संस्थानों से लेकर नासा तक अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई।

इतना ही नहीं, अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा 2010 में इस प्रॉडक्ट को चुना गया। महज 30 वर्ष के पल्लव नढानी (Pallav Nadhani) के बिजनेस ने आज 47 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है।

Manoj Kr Gupta
Latest posts by Manoj Kr Gupta (see all)