मौका था बिहार के अनुग्रह नारायण कॉलेज, पटना  के परिसर में आयोजित ‘ मेरिट्स ऑफ़ बिहार 2017 ‘ का जिसे आयोजित किया एक युवा इंजिनियर रोहित कुमार सिंह ने और मुख्य अतिथि रहे बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ( IAS ) | बिहार बोर्ड में पिछले साल  तीस लाख विद्यार्थियों में से  मात्र  साढ़े दस लाख छात्र  पास करने वाले  इस परीक्षा ने बिहार में शिक्षा के गिरते स्तर के  मौजूदा  हालात को नंगा कर दिया | यह एक गंभीर मुद्दा है और BE FOR NATION के टीम ने इस मसले को न सिर्फ गंभीरता से लिया बल्कि अपनी तरफ से ” अच्छे रिजल्ट के लिए अच्छे दिन ” मुहीम की  शुरुवात की है

Merits of Bihar 2017 - Inaugration

अच्छे रिजल्ट के लिए अच्छा दिन

बिहार बदल रहा है , सकारात्मक प्रयास किये जा रहे है  चाहे दहेज प्रथा बंद करने की बात हो या पूर्ण शराब बंदी की पर सरकार की ओर से अभी तक शिक्षा के क्षेत्र में कोई बहुत बड़ा क्रांतकारी अभियान या इस क्षेत्र में ठोस बदलाव के लिए कोई मुहीम चलता हुआ नहीं दिख रहा है | आज भी बिहार में सरकारी स्कूलों के बच्चों को आधा सत्र बीतने तक किताबें मुहैया नहीं होती है ….और किताबों के बगैर ही बच्चे  छःमाही परीक्षा भी दे देते है  |

शिक्षा के नए नए आयाम सिर्फ कागजी नजर आते हैं | पर बिहार की धरती पर ऐसे कई लाल है जिनको इस बात से फर्क नहीं पड़ता की सरकार क्या करेगी और क्या कर रही है , अपनी माटी के उच्चकोटि वाली शैक्षणिक विरासत की गरिमा और अस्मिता को बचाने के लिए अब बिहारी युवा ही आगे आ रहे है | पटना के युवा इंजिनियर रोहित कुमार सिंह ने खुद के दम पर  मेरिट्स ऑफ़ बिहार 2017  का आयोजन  किया  जिसका मकसद एवं नारा  था “अच्छे रिजल्ट के लिए अच्छा दिन “ …एक आगाज और एक विश्वास को चौतरफा समर्थन मिला और इस मुहीम को साथ मिला आनद किशोर जी का जो वर्तमान बिहार बोर्ड के अध्यक्ष और पटना के कमिश्नर भी |

बिहार बोर्ड में अब नया पैटर्न और मिलेंगे जयादा अंक

रोहित द्वारा आयोजित बी फॉर नेशन के  कार्यक्रम में बिहार बोर्ड के अध्यक्ष सह प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर ने  छात्रो एवं सभा को संबोधित किया और अगले वर्ष फरवरी में होने वाली परीक्षा के विषय में बताते हुए कहा कि इस बार ऑब्जेक्टिव प्रश्नों पर जोर दिया गया है और अब आधे प्रश्न ऑब्जेक्टिव पूछे जायेगे | इससे मार्किंग तेज होगी और बेहतर अंक भी मिलेगा | परीक्षा पैटर्न में बदलाव किया गया है ताकि सीबीएसई की तर्ज पर बिहार बोर्ड के छात्रों को भी ज्यादा अंक मिल सके। बोर्ड के तरफ से मोडल प्रश्न और उत्तर वेबसाइट पर अपलोड कराए गये है और परीक्षा को लेकर दिक्कतों के लिए काउंसलिंग भी की  जा रही है |

anand kishore the chairman of bihar board, Patna

सेमीनार में सवाल – जवाब का  चला दौर

मेरिट्स ऑफ़ बिहार में एक्सपर्ट्स द्वारा  छात्रों को नए पाठ्यक्रम और नए पैटर्न के बारे  में न सिर्फ अवगत कराया गया  बल्कि एग्जामिनेशन फोबिया , और मानसिक निराशा से   उबरने के लिए सुझाव भी दिए गए  | छात्रों ने जमकर अपनी समस्याएं सुनाई और Be For Nation की टीम एवं सीनिअर फैकल्टी द्वारा उन्हें जवाब भी मिला | छात्रों के लिए  निःशुल्क क्रैश कोर्स के लिए मुफ्त रजिस्ट्रेशन और  परामर्श भी उपलब्ध करवाए गए  | इस अवसर पर ए . एन कोलेज के प्राचार्य डॉ शशि प्रताप शाही समेत कई दिग्गज मौजूद रहे , इस कार्यक्रम में दरभंगा विश्व विद्यालय के पूर्व कुलपति  डॉ अरविन्द कुमार पाण्डेय , नशा मुक्ति केंद्र की सचिव डॉ राखी शर्मा , शिक्षाविद डॉ आशुतोष एवं प्रोफ़ेसर तनूजा सिंह एवं रत्ना जी  ने भी छात्रों से मुखातिब होकर उनके समस्याओं को सुना और बेहतर उपाए बतलाये |