हमारे समाज में रोजाना महिलाओं और लडकियों के साथ छेड़-छाड़ की घटना होना आम बात हो गई है लोग मूक  बन सिर्फ देखते रहते हैं पर इन घटनाओं की रोक-थाम के लिए पटना की एक बेटी ख़ुशी ने बीड़ा उठाया है और यूथ फॉर स्वराज नाम से एक मुहीम की शुरुवात  हुई | ” मैं अकेला ही चला था जानिब-ए-मंज़िल मगर ,लोग साथ आते गए और कारवाँ बनता गया ” | पटना में रहने वाली  ख़ुशी के साथ भी यही हुआ वो चली तो थी अकेले ही पर आज उनकी टीम में सदस्यों की संख्या 60 से भी अधिक है 

Youth for swaraj

यूथ फॉर स्वराज की नींव

महिलाओं की सुरक्षा के मामले में हमेशा सवालों के घेरे में रहने वाला समाज जब तक खुद इस समस्या से निपटने के लिए आगे नहीं खड़ा होगा तब तक महिलाएँ और लडकियां सुरक्षित नहीं हो सकेगी | पटना की रहने वाली  ख़ुशी बताती है कि  वो और उनकी दोस्त भी छेड़ छाड़ का शिकार हुई है | ऐसे  ही एक दिन अपने दोस्तो के साथ बैठ कर इसी बारे विचार कर रही थी तब उनलोगों ने इसके बारे में सोचा और सुझाव दिया क्यों न हम सब मिल कर इस समस्या से निजात पाए  और इसी विचार ने यूथ फॉर स्वराज का नींव रखी |

http://gyanversha.com/10-tips-for-women-for-self-defense-and-to-avoid-harassment-in-hindi/

यूथ फॉर स्वराज का मुख्य उद्देश्य

यूथ फॉर स्वराज मुहीम की शुरुवात 2015 में हुई थी | इस मुहीम के तहत लोगों को जागरूक किया जाता है कि  समाज में सबको समान रूप से जीने का अधिकार है तथा जिनके साथ छेड़-छाड़ की घटना हो चुकी है वो सामने आये और यूथ फॉर स्वराज के माध्यम से उनकी समस्याओं का समुचित समाधान किया जाता है | यूथ फॉर स्वराज का सपना है की पुरे बिहार से छेड़-छाड़ की घटना का पूरी तरह सफाया हो जाए इसके लिए यूथ फॉर स्वराज की टीम प्रत्येक कॉलेजों में जा कर परिचर्चा कर लोगों को जागरूक करते हैं कि  जिस तरह से  आप के साथ छेड़-छाड़ की घटना हो रही है आप निः संकोच सामने आयें तथा उसका डट-कर सामना करें क्योंकि  जो आपके साथ हुआ है और आप किसी कारणवश कुछ बोल नहीं पाते हैं तो इस तरह से उन लोगों का आत्मबल और बढ़ जायेगा तथा कल किसी और के साथ भी वैसा हीं करेंगे और इस तरह से ये समस्या कभी ख़त्म नहीं होगी और प्रशासन भी आपकी किसी तरह से कोई मदद नहीं कर सकती |

यूथ फॉर स्वराज

एस एस पी मनु महाराज का भी मिला साथ

यूथ फॉर स्वराज मुहीम को समाज के लिए बेहतर काम करने के कारण पटना के एस एस पी मनु महाराज जी ने भी यूथ फॉर स्वराज की टीम को बधाई दी तथा भरपूर सहयोग देने का वादा भी किया है साथ हीं एस एस पी मनु महाराज भी यूथ फॉर स्वराज मुहीम के साथ जुड़े हैं | यूथ फॉर स्वराज की टीम गरीब बच्चों के लिए निःशुल्क शिक्षा की भी व्यवस्था करवाती है | यूथ फॉर स्वराज की टीम का मानना है की शिक्षा हीं एक एसा हथियार है जिससे गरीबी नामक बीमारी से मुक्ति मिल सकती है इस लिए यूथ फॉर स्वराज की टीम सोमवार से शुक्रवार बुद्धा कॉलोनी में निःशुल्क शिक्षा की व्यवस्था करवाती हैKhushi - Patna - Youth for -swaraj

पुरे बिहार में मुहीम चलाने की तैयारी

ख़ुशी ने बिहारस्टोरी टीम को बताया की शुरुवात में उन्हें काफी परेशानी हुयी क्योकि उन्होंने अकेले ही सब कुछ की शुरुवात की पर इस काम ने अन्य लोगो को भी जागरूक बनाया तथा धीरे धीरे उनके साथ और लोग भी जुड़ने लगे |आज उनकी टीम में सदस्यों की संख्या 60 से भी अधिक है  ‘जिनमे स्वेतांजलि,दीपक,प्रियांशु,गुंजन, नवलेश,  अमित, पिंटू, निति,राधा प्रमुख है | जो पटना के अलावा मोकामा, पटना और आरा में इस मुहीम को चला रहे हैं, और आगे बिहार के सारे जिले में भी यूथ फॉर स्वराज मुहीम को चलाने का विचार कर रहे हैं|

niraj kumar

niraj kumar

एक बेहतरीन हिंदी स्टोरी राइटर , और समाज में अच्छीबातोंको ढूंढ कर दुनिया के सामने उदाहरण के तौर पे पेश करते है |
niraj kumar