बिहारी प्रतिभा ने हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है चाहे वो पढाई, कला, या व्यापार हो हर क्षेत्र में बिहारी अपने-आपको साबित कर चुके हैं दोस्तों आज हम बात करेंगे बिहार के एसे ही एक प्रतिभा के बारे में जो  फ़िल्म निर्देशक, लेखक और निर्माता हैं वो हैं नीरज पांडेय जो कि अपनी फिल्म ए वेडनेस्डे की वजह से जाने जाते हैं और इसके लिए उन्हें डायरेक्टर के रूप में सर्वश्रेष्ठ पहला फिल्म का इंदिरा गांधी अवार्ड दिया गया |

लेखक,निर्देशक और निर्माता (Writer, Producer, Director) -Neeraj Panday -BiharStory is best online digital media platform for storytelling - Bihar | India

नीरज पांडेय (Neeraj Panday) के पिता बिहार (Bihar) से हैं और वे कलकत्ता के बोस कंपनी के लिए काम करते थे |  नीरज पांडेय (Neeraj Panday) का जन्म भी कोलकाता में हुआ था |उनकी प्रारंभिक पढाई भी वहीँ संपन्न हुई बाद में नीरज पांडेय दिल्ली आ गए जहां से उन्होंने अंग्रेजी में स्नातक किया | शुरू से ही उनकी रूचि फिल्म में थी इस लिए उन्होंने इसी क्षेत्र में अपना करियर दिल्ली स्थित कंपनी लिगेसी एंटरटेनमेंट के साथ शुरू किया। यह कंपनी टेलीविजन प्रोग्राम बनाने के लिए डालमिया ग्रुप द्वारा शुरू की गई जहां से नीरज पांडेय ((Neeraj Panday) ने फिल्म के बेसिक्स सीखे |

2000 में नीरज पांडेय (Neeraj Panday) मुंबई आ गए जहां उनके दोस्त के पास एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म (Documentary Film) को प्रोड्यूस करने का प्रस्ताव  आया था और ये प्रस्ताव उसने नीरज पांडेय को दिया | फिर नीरज पांडेय डॉक्यूमेंट्री फिल्म (Documentary Film) और एड फिल्मस बनाने लगे। इसके बाद उन्होंने अपनी दोस्त शीतल भाटिया के साथ मिलकर क्वार्टर इंच प्रोडक्शन नाम की प्रोडक्शन कंपनी को स्थापित किया जो कि टेलीविजन प्रोग्राम्स, एड फिल्मस और डाक्युमेंट्रीज (Documentary Film) बनाने के लिए बनाया गया था|

इसके बाद उन्होंने फ्राइडे फिल्मवर्कस की स्थापना की जो कि उनकी डेब्यू फिल्म ए वेडनेस्डे का प्रोड्यूसर भी था। इस फिल्म की स्क्रिप्ट 11 जुलाई 2006 को हुए मुंबई की ट्रेन में हुए बम धमाकों से प्रेरित थी | फिल्म पर उनके द्वारा किए गए काम को जनता के साथ साथ आलोचकों ने भी खूब सराहा | नीरज पांडेय (Neeraj Panday) की दूसरी फिल्म स्पेशल 26 को भी पहली फिल्म की तरह दर्शकों के साथ साथ आलोचकों का भी भरपूर प्यार मिला |

नीरज पांडेय (Neeraj Panday) की तीसरी फिल्म थी बेबी जो कि 23 जनवरी को रिलीज हुई। इसमें अक्षय कुमार मुख्य भूमिका में थे। यह फिल्म भी क्रिटिकली अक्लेम्ड रही और इसने बॉक्स ऑफिस पर भी अच्छा कारोबार किया | नीरज पांडेय अपना पहला नॉवेल गालिब डैंजर भी लिखा जो कि 6 दिसम्बर 2013 को लांच किया गया |

इसके बाद की फिल्म महेंद्र सिंह धोनी पर आधारित ‘एम एस धोनीः द अनटोल्ड स्टोरी’ है जिसके लिए सुशांत सिंह राजपूत को मुख्य अभिनेता के तौर पर कास्ट किया गया था |

नीरज पांडे को शानदार फिल्मकार मानते हैं मनोज बाजपेई

बॉलीवुड के जाने माने अभिनेता मनोज वाजपेयी, नीरज पांडे (Neeraj Panday) को शानदार फिल्मकार मानते हैं। नीरज और मनोज अब जिगरी दोस्त बन गये हैं। मनोज ने कहा कि “नीरज जैसे निर्देशक फिल्म इंडस्ट्री में कम ही हैं। मनोज ने कहा, ‘नीरज पांडे की मैं बहुत इज्जत करता हूं।वह एक बेमिसाल लेखक और निर्देशक हैं। बहुत अच्छे निर्माता भी हैं।”
वह मेरे बहुत अच्छे दोस्त भी बन चुके हैं।हमारे एसोसिएशन की शुरुआत तब हुई थी जब उनकी ‘ए वेडनेसडे’ फिल्म रिलीज़ हुई थी।तब मैंने उनको फोन किया था और फिल्म कि तारीफ भी की थी और काम भी मांगा था। वहां से शुरू हुई बात अब निर्देशक और अभिनेता से आगे बढ़ते हुए दोस्ती तक आ गई है। इसके अलावा मैं उनकी इज्जत इसलिए भी करता हूं कि हमारी इंडस्ट्री में कम ही ऐसे प्रतिभावान लेखक और निर्देशक हैं, जो नीरज पांडे (Neeraj Panday) के जैसे हैं।

niraj kumar

niraj kumar

एक बेहतरीन हिंदी स्टोरी राइटर , और समाज में अच्छीबातोंको ढूंढ कर दुनिया के सामने उदाहरण के तौर पे पेश करते है |
niraj kumar

Latest posts by niraj kumar (see all)