बिहार की धरती से यूं तो बहुत से बड़े-बड़े कलाकार सामने आये हैं, पर एक छोटी सी कलाकार आर्य नंदिनी जो  अपनी छोटी सी उम्र में ही धमाल मचाने को है तैयार | आर्य नंदिनी ने अपनी संगीत की साधना 8 वर्ष से भी कम उम्र में  शुरू की थी | और आज आर्य नंदिनी देश में अपनी प्रतिभा दिखाने तैयार है | आर्य नंदिनी की प्रतिभा के कारण  उनका चयन कलर्स चैनल पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रम राइजिंग स्टार 2 के लिए हुआ है |

आर्य नंदिनी प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद की जन्म स्थली जीरादेई प्रखंड के छितरपुर गांव निवासी मिथिलेश सिंह की लाडली बेटी है | आर्य नंदिनी ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने गांव के स्कुल से ही पुरी की | इसके बाद वह छत्तीसगढ़ के भटगांव जिले के सूरजनगर अपने पिता के पास चली गई | सूरजनगर में मिथिलेश सिंह ACCL में नौकरी करते थे  वही से आर्य नंदिनी की आगे की पढ़ाई हुई | स्कूल के दिनों से ही संगीत में अपनी रुचि दिखाने वाले आर्य नंदिनी ने छोटी-छोटी कदमों से आगे बढ़ते हुए Colors चैनल तक अपना सफर तय किया | आर्य नंदिनी को मात्र 8 वर्ष की उम्र में पहली बार बड़े मंच पर प्रदर्शन करने का मौका मिला था |

छत्तीसगढ़ी भाषा के एल्बम से आर्या नंदनी को  छत्तीसगढ़ में अच्छी-खासी शोहरत मिली | इसके बाद आर्या नंदनी के कदम कहा रुकने वाले थे | महुआ चैनल पर भोजपुरी गायक मनोज तिवारी के एंकरिंग में शुरू हुए नहले पर दहला प्रोग्राम के रांची में आयोजित ट्रायल में चयन हुआ | फिर सोनी टीवी के कार्यक्रम भक्ति सम्राट जैसे कार्यक्रम में अपनी प्रतिभा दिखाई अब तो  आर्या नंदिनी की भोजपुरी गायन के क्षेत्र में लगातार ऊंची उड़ान शुरू हो गयी |

विदेशों में भी मिल चूका है सम्मान

इसके अलावा उन्होंने विदेशों में भी कई प्रोग्राम प्रस्तुत किया है | आर्या नंदिनी की 2 वर्ष पूर्व थाईलैंड में आयोजित कार्यक्रम में भागीदारी हुई थी | उस दौरान वहां के महारानी श्रीक्रीट के हाथों सम्मानित भी हुई |महारानी के हांथो सम्मान पाना आर्या नंदिनी के लिए अद्भुत रहा | देश के साथ-साथ विदेशों में भी ये नन्ही गायिका अपने प्रदेश का नाम रौशन कर दी | आर्या नंदिनी अपने इस उपलब्धि का सारा श्रेय अपने पिता मिथिलेश सिंह को देती है जिन्होंने आर्या नंदिनी को गायन के क्षेत्र में राह दिलाई |

niraj kumar

niraj kumar

एक बेहतरीन हिंदी स्टोरी राइटर , और समाज में अच्छीबातोंको ढूंढ कर दुनिया के सामने उदाहरण के तौर पे पेश करते है |
niraj kumar