प्रतिभा किसी मुकाम पर जाकर ठहरती नहीं है, वह उस मुकाम को नई ऊंचाई छूने का रास्ता बनाती है और एक दिन अपनी मंजिल पाकर रहती है। प्रतिभा का संघर्ष लगातार जारी रहता है, जब तक कि उन्हें अपनी मंजिल न मिल जाए | ऐसी ही प्रतिभा की धनी हैं बिहार के मोतिहारी जैसे छोटे शहर में पली-बढ़ी टीवी एक्ट्रेस नेहिका सिंह राजपूत,  जो बहु हमारी रजनीकांत, उड़ान, और ये है मोहब्बते जैसे दर्जनों टीवी सीरियल्स कर चुकी है |

 

बचपन का सपना था अभिनय करने का

नेहिका सिंह राजपूत का रुझान बचपन से हीं अभिनय की तरफ था | नर्सरी क्लास से ही नेहिका स्टेज डांसिंग और सिंगिंग में पार्टिसिपेट करना शुरू कर दिया था | इस कारण नेहिका की मां भी थोड़ा इनसिक्योर फील करती थी, पर नेहिका के पापा को नेहिका पर पूरा भरोसा था | सो पढ़ाई के साथ-साथ ये सब एक्टिविटीज भी जारी रही | वैसे नेहिका सिंह राजपूत का पुश्तैनी गांव विक्रमगंज है | पर अब वहां कोई भी नहीं रहता  नेहिका सिंह राजपूत का जन्म पटना में हुआ था, नेहिका के जन्म के बाद उनके पिताजी का ट्रांसफर मोतिहारी शहर में हो गया | मां-पिताजी दोनों प्रोफेसर हैं | नेहिका की परवरिश और शिक्षा-दीक्षा मोतिहारी में ही हुई | नेहिका आगे चलकर मेडिकल की तैयारी के लिए दिल्ली आ गयी | पर मेडिकल के लिए सेलेक्शन नहीं होने की वजह से नेहिका देहरादून से एमबीए की पढ़ाई की | फिर दिल्ली एचडीएफसी में बतौर एचआर मैनेजर ज्वाइन किया | पर कुछ समय बाद ही नेहिका के बचपन के ख्वाब (अभिनय) ने नेहिका को मुंबई की राह पकड़ा दी |

नेहिका सिंह राजपूत दिल्ली से मुंबई तक का सफर

दिल्ली रहने के दौरान ही महुआ चैनल के रियलिटी शोज, मास्टर शेफ के सीजन थ्री एंड फोर और जी सिने स्टार की खोज में पार्टिसिपेट किया था | फिर मुंबई आने के बाद चार महीने के अंदर ही मुझे एक मराठी फिल्म मिल गयी. पर हिंदी फिल्म मिलने में मुझे एक साल लग गया. इस दौरान संघर्ष जारी रहा और लगभग दर्जन से ज्यादा टीवी शोज में छोटे-बड़े रोल मिलते रहे | इस बीच कई शोज के लिए राइटिंग का काम भी किया. पर इतने कामयाब शोज के बाद आज भी वो संघर्ष और यात्रा अनवरत जारी है| ग्यारह महीने के सफर में लगभग दर्जनभर से ज्यादा टीवी शोज, एक मराठी फिल्म और राजकुमार हिरानी की आने वाली संजय दत्त की बायोपिक फिल्म का हिस्सा | इस कामयाबी की बात चलने पर नेहिका की आवाज में एक स्वाभाविक खनक उभर आती है | राइटिंग, सिंगिंग, कुकिंग और एक्टिंग जैसी बहुमुखी प्रतिभा की धनी नेहिका अपनी सफलता का श्रेय खुद की मेहनत और आत्मविश्वास के साथ-साथ अपने माता-पिता को भी देती हैं जिनके भरोसे की वजह से आज वो इस मुकाम पर हैं |

 

niraj kumar

niraj kumar

एक बेहतरीन हिंदी स्टोरी राइटर , और समाज में अच्छीबातोंको ढूंढ कर दुनिया के सामने उदाहरण के तौर पे पेश करते है |
niraj kumar