Share Story :

दोस्तों हमारे देश में आज भी बेटी के पैदा होने पर माता-पिता के चेहरे पर निराशा साफ झलकती है । जो की एक कटु सत्य है | पर वे लोग ये नहीं समझ पाते हैं की अगर बेटियों को मौका दिया जाये तो वो बेटों से बढ़कर सफलता की वो परचम लहरा सकती है जिसे सुनकर कोई भी दातो तले ऊँगली दबा देता है, और जब भी यही बेटिया अपने मन में ठान लेती है तो असम्भव को भी सम्भव बना देती है जिसकी कल्पना भी हम नही कर सकते है । कुछ एसा हीं कर दिखाया है बिहार के अररिया (Araria, Bihar)  जिले के फारबिसगंज की भावना तिवारी (Bhavana Tiwari) ने जिन्होंने मात्र डेढ़ साल के मॉडलिंग कैरियर (Modelling Career) में ही एक अलग मुकाम हासिल की है । भावना तिवारी (Bhavana Tiwari) स्वतंत्रता सेनानी परिवार से तालुक रखती है तथा फारबिसगंज के प्रथम विधायक पंडित रामदेनी तिवारी की पौत्री है।

सुपर मॉडल (Super Model) -Bhavana Tiwari -Araria -BiharStory is best online digital media platform for storytelling - Bihar | IndiaBiharStory is best online digital media platform for storytelling - Bihar | India

भावना तिवारी (Bhavana Tiwari) मूलतः अररिया (Araria, Bihar) जिले के फारबिसगंज में जन्मी है| जिन्होंने खुद विपरीत परिस्थितियों का लंबे समय तक सामना किया, इसके बावजूद उसके हौसले कम नहीं हुए। मानो वह अपने सपनो की तस्वीर बदलने की कसम खा रखी हो। उसने इसी जुनून के बलबूते अपनी मंजिल हासिल की भावना तिवारी एक सिर्फ सुंदर चेहरा ही नहीं वह उससे बहुत अधिक है ।  भावना तिवारी (Bhavana Tiwari) ने बताया की जब वह 2012 में उन्होंने बोर्ड परीक्षा पास किया तो उन्हें  इंटर के लिए पटना (Patna, Bihar) भेज दिया गया। उनके  माता पिता से हरदम साथ एवं स्नेह मिलता रहा। वो अपने  दादाजी स्वतंत्रता सेनानी स्वर्गीय पंडित रामदेनी तिवारी को अपना आदर्श मानती  है । पटना (Patna, Bihar) में ही रहकर वो मेडिकल की तैयारी कर रही थी|  लेकिन उनके मंन में हमेशा ये ही रहता था की उन्हें अन्य लोगो से कुछ हट के करना है। यही से उन्होंने मॉडलिंग (Modelling Career) से अपनी शुरुवात की काफी  मेहनत के बाद उन्हें एक शो मिला जब वो रेम्प पर उत्तरी तो फिर क्या था दर्शक की आँखे खुली की खुली रह गई और फिर भावना तिवारी (Bhavana Tiwari) को कभी मुड़कर देखना नही पड़ा और लगातर उन्हें शो का ऑफर मिलता रहा । इसी बीच में शॉट फ़िल्म और ऐड में  भी काम किया। भावना तिवारी (Bhavana Tiwari) कहती है कि “अभी मुझे अपने कैरियर को मॉडलिंग (Modelling Career) के क्षेत्र में बहुत ऊंचाई तक जाना है”| हम सभी जानते हैं कि अगर किसी घर में एक लड़की शिक्षित होती है, तो पूरे परिवार को शिक्षित किया जाता है।

भावना बताती है की बिहार (Bihar) में टैलेंट की कोई कमी नहीं है। यहाँ सरकार को सुविधाएं बढ़ाने की कोशिश करनी चाहिए, ताकि युवा (Youth) शक्ति को दूसरे राज्य में पलायन नहीं करना पड़े। शिक्षा में सुधार तो हुआ है पर और सुधार की जरूरत है। लड़कियो की शिक्षा पर भी विशेष ध्यान देने की जरूरत है। आज भी कई लोग ये सोचते है कि लड़की है, यह क्या करेगी स्कूल जाकर ।इस सोच में बदलाव लाने की जरूरत है लड़कियो के भी टैलेंट को भी प्रोत्साहित करने की जरूरत है। मैं बिहार (Bihar) की लड़कियो से कहना चाहती हूँ कि खुदपर विश्वास करना बहुत जरुरी है। जीवन में क्या करना है यह खुद तय करिये। यह आपका अधिकार है किसी के दबाव में आ कर निर्णय बदलने की जरूरत नही है हमें बचपन से सिखाया जाता है कि लड़की हो तुम्हे आवाज तेज आवाज में बात नही करना चाहिए ।

भावना कहती है  मुझे खुशी है कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी पहले से ही इस कारण के लिए काम कर रहे हैं। हमारे समाज में  बेटियां अब अपने हक़ के लड़ रही है और अपने वजूद को बुलंदियों के शिखर पर स्थापित कर रही है ।

Manoj Kr Gupta

Manoj Kr Gupta

Editor at BiharStory
Manoj Kr Gupta is young professional and passionate writer at BiharStory.in .
Manoj Kr Gupta

Latest posts by Manoj Kr Gupta (see all)

Share Story :