उभरती प्रतिभाओं को मुखरित होने के लिए उचित मंच चाहिए ।आज ‘बनारसिया’ (Banarasiya) युवाओं के बीच एक आकर्षण का केंद्र बनी हुई है, जो नई प्रतिभाओं को उभारने का कार्य कर रही है |बनारसिया (Banarasiya) का संचालन एवं संयोजन केशव कौशिक (Kesav Kaushik) और रविरंजन नारायण (Ravi Ranjan Narayan) जी करते हैं|  दोनों हीं युवा प्रतिभाशाली और योग्य हैं | 
Banarasiya Close Mic | Kesav Kaushik | Ravi Ranjan Narayan | Young Talents | Event Story | Patna | BiharStory-India's & Bihar No.1 Digital Media House

क्या है ? ‘ बनारसिया ‘

बनारसिया क्लोज माइक (Banarasiya Close Mic) का आयोजन करती है, जिसमें नवोदित लेखक, कवि, सिंगर एवं अन्य कलाकारों को अवसर दिया जाता है| बनारसिया (Banarasiya) टीम का मुख्य उद्देश्य ही है उभरती हुई प्रतिभा को सही मंच देना | यह टीम वाराणसी, कानपुर, लखनऊ, इलाहाबाद, पटना इत्यादि शहरों में व्यापक रूप से काम कर रही है |
Banarasiya Close Mic | Kesav Kaushik | Ravi Ranjan Narayan | Young Talents | Event Story | Patna | BiharStory-India's & Bihar No.1 Digital Media House

पटना में आयोजन

पटना (Patna, Bihar) में बनारसिया (Banarasiya) का पहला सफल कार्यक्रम 1 अप्रैल 2018 को हुआ था जिसमें करीब 30 युवा कवि, लेखक, सिंगर ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया था | इस बार फिर बनारसिया क्लोज माइक (Banarasiya Close Mic) का कांसेप्ट लेकर पहली बार पटना (Patna, Bihar) में आई है | यह आयोजन 17 जून 2018 को भागीरथी विहार रेस्टोरेंट गांधी घाट, अशोक राजपथ, (Bhagirathi Vihar Restaurant Gandhi Ghat, Ashok Rajpath) पटना (Patna, Bihar) में होने जा रहा है| इसबार और ज्यादा से ज्यादा लोगों को मौका देने की कोशिश है|
Banarasiya Close Mic | Kesav Kaushik | Ravi Ranjan Narayan | Young Talents | Event Story | Patna | BiharStory-India's & Bihar No.1 Digital Media House
पटना (Patna, Bihar) में बनारसिया का संचालन एवं संयोजन केशव कौशिक (Kesav Kaushik) और रविरंजन नारायण (Ravi Ranjan Narayan) जी करते हैं|  दोनों हीं युवा एक अच्छे कलाकार है साथ में बहुत ही प्रतिभाशाली भी |  साहित्य के क्षेत्र में काम करने की इनमें ललक है| पटना (Patna, Bihar) के युवा कलाकार बनारससिया (Banarasiya) के आयोजन से काफी खुश हैं| यह पटनावासियों के लिए सुनहरा अवसर है| और भी क्षेत्र के लोग इनसे जुड़ रहे हैं| पटनावासी बनारससिया के आयोजन से काफी प्रभावित हैं|