Share Story :

पति- पत्नी का रिश्ता तो दीया और बाती की तरह ही होता है | इस बात को साबित कर दुनिया को दिखा रही है गया की रहने वाली अमृता जो अपने पति रामप्यारे यादव को अपना किडनी दान में दे रही है जो इस धरती पर किसी भी पत्नी द्वारा पति को दिया जाने वाला सबसे शानदार तोहफा होगा |

पति की जान बचाने के लिए अमृता ने उठाया खतरनाक कदम

एक वर्ष पूर्व रामप्यारे यादव को अपनी इस बीमारी का पता चला तब से वो गया शहर के ही एक अस्पताल में हीं डायलिसिस पर थे पर नतीजा सकारात्मक नहीं रहा, लगातार प्रयासों के बावजूद रामप्यारे यादव के बीमारी में कोई सुधार होते न देख वहां के डॉक्टर ने उनको आई.जी.एम.एस पटना में किडनी ट्रांसप्लांट को सुझाव दिया |

इन सब बातों से रामप्यारे यादव और उनका सारा परिवार चिंता में डूब गया | परन्तु ठीक इसी समय रामप्यारे यादव की पत्नी और माँ हिम्मत दिखाते हुए सामने आई और अपना किडनी रामप्यारे यादव को देने का साहसिक फैसला लिया है , पर किडनी ट्रांसप्लांट होने से पहले हीं माँ का देहांत हो गया ,जिसके वजह से माँ अपनी किडनी बेटे को न दे पाई | अब रामप्यारे की पत्नी अमृता अपने पति को किडनी डोनेट करके उनकी जान बचाएगी |

आईजीआईएमएसमें आज होगा किडनी ट्रांसप्लांट

चिकित्सकों के मुताबिक दोनों के ट्रांसप्लांट करने की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है और आज आईजीआईएमएसमें किडनी ट्रांसप्लांट होगा  | पटना की रहने वाली शिखा मेहता जो यूनिवर्सल ब्लड बैंक की संचालिका एवं समाजसेवी है  अपनी पूरी टीम के साथ इस काम में पूर्ण सहयोग दे रही है | उन्होंने कहा कि  अमृता ने साबित किया की पत्नियाँ अपने पति के लिए सिर्फ व्रत ही नहीं करती, जरुरत पड़ने पर मौत से भी लड़ सकती है और अपना अंग भी दान कर सकती है |

niraj kumar

niraj kumar

एक बेहतरीन हिंदी स्टोरी राइटर , और समाज में अच्छीबातोंको ढूंढ कर दुनिया के सामने उदाहरण के तौर पे पेश करते है |
niraj kumar
Share Story :