हमारा देश विविधताओं से परिपूर्ण है और इसका सबसे बड़ा उदाहरण है होली का त्‍योहार जो देश के सभी राज्‍यों में अलग-अलग तरीके से मनाया जाता है | वैसे तो होली का पर्व  पौराणिक मान्‍यताओं का पर्व है, लेकिन सभी राज्‍यों की परंपराओं के अनुसार इस त्‍योहार को मनाए जाने का प्रचलन है | तो  आइए जानते हैं देश के अलग-अलग राज्‍यों में कैसे मनाई जाती है होली का त्‍योहार…..

उत्तर प्रदेश की ब्रज की होली

उत्‍तर प्रदेश के पश्चिम में ब्रज की होली देश भर में विख्‍यात हैं | ब्रज में मथुरा, वृंदावन, बरसाना और नंदगांव में लट्ठमार होली खेलने का प्रचलन है | यहां होली के अवसर पर महिलाएं लाठियां बरसाती हैं और पुरुष बचाव करते हैं और चारों ओर रंग ही रंग बरसता है |

उत्तराखंड की होली

उत्‍तराखंड की कुमाऊंनी होली के नाम से प्रचलित है यह त्‍योहार | यहां होली का त्‍योहार बसंत पंचमी से ही शुरू हो जाता है | यहां लोग पहाड़ों की पारंपरिक पोशाक पहनकर नृत्‍य करते हैं और होली खेलते हैं |

पंजाब की होली

होली को पंजाब में ‘होला मोहल्‍ला’ के नाम से भी जाना जाता है | पंजाब के प्रसिद्ध तीर्थ स्‍थल श्री आनंदपुर साहिब होली को होला मोहल्‍ला त्‍योहार के नाम से मनाया जाता है | यहां होली के त्‍योहार को पौरुष के पर्व के रूप में देखा जाता है | यहां निहंग हाथ में सिखों का निशान उठाए भाला और तलवार के साथ पौरुष का प्रदर्शन करते हैं |

हरियाणा की चर्चित देवर-भाभी होली

हरियाणा की होली अपने शरारती अंदाज को लेकर देश भर में जानी जाती है | यहां धुलेंडी पर देवरों द्वारा भाभी को परेशान करने की परंपरा है | यहां देवर भाभी को रंगने की कोशिश करते हैं और भाभी देवर पर लाठियां चलाती हैं |

राजस्‍थानी होली

राजस्‍थान और ब्रज की होली में काफी समानताएं देखने को मिलती हैं | यहां होली सूखे रंग और गुलाल से खेलने का परंपरा है और लाठियां भी बरसाई जाती हैं |

बंगाल में चैतन्‍य महाप्रभु का जन्‍मदिन

बंगाल में होली को चैतन्‍य महाप्रभु के जन्‍मदिन के रूप में मनाते हैं | इसे डोल यात्रा और डोल महोत्‍सव के नाम से भी जाना जाता है | राधा-कृष्‍ण की प्रतिमाओं को रथ पर बिठाकर यात्रा निकालते हैं और महिलाएं रथ के आगे नृत्‍य करती हुई चलती हैं |

गोवा की होली

गोवा में कोंकणी होली मनाए जाने का चलन है। होली को यहां शिमगोत्‍सव के रूप में मनाया जाता है। यहां होली के दिन जुलूस निकाला जाता है। हर जाति और धर्म के लोग इस जुलूस में शामिल होते हैं।

बिहार की भोजपुरी होली

देश के पूर्वी इलाकों और बिहार में होली को फाग उत्‍सव के नाम से जाना जाता है। यहां कई स्‍थानों पर कीचड़ से भी प्रख्‍यात कुर्ता फाड़ होली खेली जाती है |

niraj kumar

एक बेहतरीन हिंदी स्टोरी राइटर , और समाज में अच्छीबातोंको ढूंढ कर दुनिया के सामने उदाहरण के तौर पे पेश करते है |
niraj kumar

Latest posts by niraj kumar (see all)