ट्रांसजेंडर ( Transgender ) जिसे सभ्य समाज में अच्छी नज़र से नहीं देखा जाता है और न हीं उनके साथ अच्छा बर्ताव किया जाता है | आज की हमारी कहानी भी एक  ट्रांसजेंडर ( Transgender ) की है जो पिछले सत्रह वर्षों से ट्रांसजेंरर्स ( Transgender ) की समस्याओं को लेकर काम कर रही हैं और सेक्स वर्करों की बेटियों को सुरक्षित माहौल देने के लिए बनवा रही है शेल्टर | इसके अलावा पशु पक्षियों के बेहतरी के लिए भी कर रही है काम |  हम बात कर रहे हैं  मुंबई की  ( Transgender Gauri Sawant ) ट्रांसजेंडर गौरी सावंत की जिसके पिता ने जिंदा रहते कर दिया था अंतिम संस्कार |

Transgender Gauri Sawant 

मराठा परिवार में हुआ था गौरी सावंत का जन्म

ट्रांसजेंडर गौरी  Transgender Gauri Sawant  का जन्म मुंबई में दादर के एक मराठा परिवार में हुआ था |  उनके पिता सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) थे  | माता-पिता ने उन्हें गणेश नंदन नाम दिया था | अपनी सेक्सुएलिटी के बारे में पिता से बात न कर पाने की वजह से गौरी ने छोड़ा था घर | इस कारण पिता ने जिंदा रहते  हीं  अंतिम संस्कार कर दिया था | गौरी सावंत  ( Gauri Sawant  )चाहती थी  कि जो परेशानियां उन्होंनेे झेली वे दूसरे ट्रांसजेंडर न झेले। वे चाहती हैं कि अगली पीढ़ी को स्वीकार्यता, शिक्षा और रोजगार सब कुछ मिले इसलिए वे घर से भागे हुए ट्रांसजेंडर ( Transgender ) के लिए मलाड के मलवाणी में ‘सखी चार चौघी’ नाम से आश्रय स्थल चलाती हैं |

सेक्स वर्कर की लड़कियों के लिए नानी घर

गौरी सावंत  Gauri Sawant को जब  सेक्स वर्कर की लड़कियों की समस्याओं के बारे में पता चला तो गौरी ने इन्हें सुरक्षित माहौल देने के लिए शेल्टर बनाने का फैसला किया है। वह milaap.org की सहायता से इस काम के लिए पैसे जुटा रही हैं | गौरी सावंत  दोस्त और एलजीबीटी कार्यकर्ता हरीश अय्यर ने उन्होंने मिलाप का सहयोग लेने के सुझाव दिया था |

सेक्स वर्कर की युवा बेटियों के लिए कर्जत में 1 हजार स्क्वेयर फीट का दो मंजिला शेल्टर बनाने की प्लानिंग की जा रही है और इसे  नानी का घर नाम दिया जाएगा। नानी के घर से जुड़ सबकी बचपन की यादें जुड़ी होती हैं, इस शेल्टर का रखरखाव भी ट्रांसजेंडर ही करेंगे |

आवारा कुत्तों के लिए भी शुरू की  मुहिम

गौरी ने अब पशुओं और पंछियों के लिए भी मुहिम शुरु कर दी है। उन्होंनेे आवारा भटकने वाले कुत्तों के लिए भी काम करना शुरू कर दिया है | वह अब लोगों को कुत्ते पालने से रोकने की मुहिम चलाने वाली है। उसे पालतू जानवर के रुप में देखने का नजरिया बदलने के लिए वह यह अभियान चलाएगी |

Transgender Gauri Sawant

सेक्स वर्कर की बेटी को गोद ले चुकी हैं गौरी

गौरी ने एक सेक्स वर्कर की मौत के बाद उसकी 6 साल की बच्ची को गोद लिया था | इस सेक्स वर्कर की बच्ची को उधार न चुकाने से कुछ लोग बेचना चाहते थे लेकिन गौरी ने उसे बचाया | वह अब 11 वीं कक्षा की पढ़ाई करती है |

niraj kumar

एक बेहतरीन हिंदी स्टोरी राइटर , और समाज में अच्छीबातोंको ढूंढ कर दुनिया के सामने उदाहरण के तौर पे पेश करते है |
niraj kumar

Latest posts by niraj kumar (see all)