आज देश भर मे  बहुत से ऐसे माता पिता है जो या तो बेघर है या तो किसी वृद्धा आवास मे अपना जीवन व्यतीत कर रहे है | आज बहुत ऐसे परिवार है जो माँ बाप को बोझ समझते है इसलिये उनके साथ दुव्यवहार करते है जो की गलत है हर माँ बाप को लगता  है उसके बुढ़ापे का सहारा उसके बच्चे होंगे पर ऐसा वास्तविक मे नहीं होता समय आने पे उनको बोझ और खर्चे का घर समझने लगते है |Old age pension scheme

बी पी एल धारकों ही नहीं बल्कि सभी वृद्ध व्यक्ति भी उठा सकेंगे इस योजना (Old pension scheme) का लाभ |

इन्ही सब चीज़ों को देखते हुए बिहार के माननीया मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने वृद्धा पेंशन योजना ( Old age pension scheme ) शुरुवात की है | आज बिहार इस योजना की शुरुवात  करने वाला  पहला राज्य बन गया है । इस योजना के तहत, 60 वर्ष या उससे अधिक उम्र के व्यक्ति, उनकी जाति या वित्तीय स्थिति के बावजूद, उनके बैंक खाते में हर महीने 400 रुपये की राशि मिलेगी। 80 वर्ष या उससे अधिक आयु के लोगों को 500 रुपये की पेंशन ( Old age pension scheme )  इस योजना के तहत प्रति माह मिलेगी।यह जानना महत्वपूर्ण है कि देश के अन्य राज्यों में वृद्धा पेंशन ( Old age pension scheme ) केवल बीपीएल परिवारों के सदस्यों, एससी / एसटी, विधवा या विकलांग लोगों को प्रदान की जाती है। लेकिन बिहार में इस योजना में कुछ अंतर है।

Old age pension scheme

राज्य या सांस्कृतिक सरकार से पेंशन उठा रहे वृद्ध को नहीं मिलेगा वृद्ध पेंशन योजना ( Old age pension scheme ) का लाभ |

60 वर्ष से अधिक उम्र के प्रत्येक व्यक्ति, यदि उन्हें राज्य या सांस्कृतिक सरकार से कोई अन्य पेंशन ( Old age pension scheme ) नहीं मिल रही है तो वो इस योजना का लाभ उठा सकते है । देखा जाय तो देश के किसी अन्य राज्य में ऐसी अनूठी योजना नहीं है, जहां सभी वृद्धावस्था लोग पेंशन पा सकें |  यह योजना केवल बिहार में शुरू की गई है।

Also read : गुमनाम युवा  गांव- गांव  पहुँच कर करा रहे है चमकी बीमारी से स्थानिक लोगों को अवगत

1 अप्रैल, 2019 को आधिकारिक रूप से मिली मान्यता |

इस योजना को शुरू करते समय समाज कल्याण विभाग की स्थिति में, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, “यह 60 और उससे अधिक आयु के लगभग 35-36 लाख लोगों तक ये  सुविधा पहुंचाई जाएगी |जिसमे सरकार इस योजना के तहत प्रति वर्ष 1,800 करोड़ रुपये का अतिरिक्त व्यय करेगी | लगभग 2 लाख आवेदन प्राप्त हुए हैं। ” सत्यापन प्रक्रिया के बाद कुल 1, 35,928 आवेदक योग्य पाए गए। 2 महीने, यानी अप्रैल और मई, 2019 की पेंशन राशि  लाभार्थियों के बैंक खातों में भेज दी गई है। यह जानना महत्वपूर्ण है कि यह योजना 1 अप्रैल, 2019 से लागू हो गई है।

Old age pension scheme

लगभग 35-36 लाख लोग इस सुविधा का उठा सकेंगे लाभ |

सीएम नीतीश कुमार के अनुसार  इस नई और अनोखी योजना ( Old age pension scheme )  के विचार ग्रामीणों से आए थे। उन्होंने कहा, “जब मैं गांवों का दौरा करता था, तो कई पुराने लोग मेरे पास आते थे और कहते थे कि उन्हें कोई वृद्धा पेंशन नहीं ( Old age pension scheme ) मिल रही है क्योंकि उनका नाम बीपीएल परिवारों की सूची में नहीं था। वे लोग वास्तव में जरूरतमंद लगते थे  ” इस  नई योजना की शुरुवात पहले अगस्त में शुरू की जाने वाली थी लेकिन इस पर चल रहे काम 2 महीने पहले ही ख़त्म हो गए | इस योजना के लिए काम करने वाले सभी अधिकारियों की प्रशंसा की, क्योंकि वे इसे लॉन्च की तारीख से लगभग दो महीने पहले तैयार हो गए थे।