सौभाग्य न सब दिन सोता है देखो आगे क्या होता है, बस अपना कर्म करते जाइये, समय कब करवट लेता है, कोई नहीं कह सकता,पर जब लेता है तब रानू मंडल जैसे सितारे पैदा लेते हैं | जी हाँ दोस्तों जो महिला कल तक पश्चिम बंगाल के राणाघाट रेलवे स्टेशन पर गाना गा कर अपना गुजारा करती थी, वही महिला अपने गाने की वजह से रातों-रात सेलेब्रिटी बन गई ! जी हाँ दोस्तों हम बात कर रहे हैं आज की सुपर स्टार रानू मंडल की | 

सॉफ्टवेयर इंजीनियर एतींद्र चक्रवर्ती की मामूली कोशिश वजह बनी

रोजी-रोटी के जुगाड़ में ट्रेनों, रेलवे स्टेशनों पर पुराने फिल्मी गीत गाने वाली कोलकाता की 59 वर्षीय क्रिश्चियन महिला रानू मंडल को रातोरात लखपति ही नहीं, बॉलीवुड स्टार भी बना दिया।” कभी-कभी दुनिया वालों के सामने कुछ ऐसे वाकये हो जाते हैं, जिन्हे जान-सुनकर यकीन कर पाना मुश्किल हो जाता है। कोलकाता की रेनू मंडल का एक झटके में फ़र्श से अर्श पर पहुंच जाना एक ऐसी अनहोनी है, जो कल तक रेलवे स्टेशनों, लोकल ट्रेन में गाने गाकर दो जून की रोटी जुटा पाती थीं, अब लखपति हो चुकी हैं। हाल ही में उन्हे ऐसी ऊंचाई नसीब कराने में रानाघाट (प.बंगाल) के युवा सॉफ्टवेयर इंजीनियर एतींद्र चक्रवर्ती का एक वीडियो माध्यम बना, जिसे संयोग वश सुन लेने के बाद अभिनेता सलमान खान के कहने पर हिमेश रेशमिया ने उन्हे मुंबई बुलाकर अपनी फिल्म ‘हैप्पी हार्डी एंड हीर’ के लिए ‘तेरी मेरी कहानी’ गाना रिकॉर्ड कराया है।

चाची ने किया था लालन-पालन

रानू मंडल  बचपन में ही अपनी मां को खो दिया था। पालन पोषण उनकी चाची ने किया था | रानू मंडल रेलवे स्टेशन पर इसलिए गाना गाती थी क्योंकि उनके  सामने रोटी, कपड़ा और मकान की समस्या थी। गाना गाकर ही पेट भरता था। गाना गाने के बाद किसी ने बिस्कुट दिया या किसी ने कुछ खाना दिया, या किसी ने रुपए दे दिए।’ हाल ही में एक दिन जब वह रानाघाट रेलवे स्टेशन पर कवि संतोष आनंद के लिखे एवं लता मंगेशकर द्वारा गाए गए गीत ‘एक प्यार का नगमा है, मौज़ों की रवानी है’, गा रही थीं, तभी वहां मौजूद एतींद्र चक्रवर्ती की नज़र उन पर पड़ गई। एतींद्र ने उनके गाने का वीडियो अपने फेसबुक अकाउंट पर शेयर कर दिया। बस, फिर तो जो हुआ, हैरतअंगेज रहा।

रानू मंडल के दिन बदल चुके

रानू का गाना सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा, इधर वीडियो से उनका गाना सुनकर अभिनेता सलमान खान ने  संगीतकार-गायक हिमेश रेशमिया को उन्हे मुंबई ले आने का सुझाव दिया। रेशमिया ने उनको सोनी टीवी के सिंगिंग रियलिटी शो ‘सुपरस्टार सिंगर’ में बतौर मेहमान आमंत्रित करा लिया। उस शो के जज रहे रेशमिया, गायिका अलका याज्ञनिक और जावेद अली।उस शो के बाद तो ‘सुपरस्टार सिंगर’ कार्यक्रम प्रसारित होते ही अब तक रेलवे स्टेशनों पर सुनकर भी अनसुना करते रहे लोग रानू मंडल के सुर के दीवाने हो गए। मानो किसी नई लता मंगेशकर ने जन्म ले लिया हो। उनकी आवाज़ का जादू एक झटके में करोड़ों दिलो में समा गया। अब तो रानू मंडल के दिन बदल चुके हैं। मेकओवर के बाद अब उनके पास बड़े-बड़े ऑफर्स की लाइन लग गई है। रेशमिया ने अपने इंस्टाग्राम पर भी उस वीडियो को अपलोड कर दिया है, जिसे लाखों लोग शेयर कर चुके हैं।

उसके बाद रानू जिस वक़्त हिमेश रेशमिया की फिल्म ‘हैप्पी हार्डी एंड हीर’ के लिए ‘तेरी मेरी कहानी’ गाना रिकॉर्ड करा रही थीं, एतींद्र भी स्टूडियो में मौजूद रहे। उनको खुद भी यकीन नहीं हो रहा था कि उनका एक वीडियो किसी मजबूर महिला की जिंदगी में इस तरह का परिवर्तन ला देगा।

बताते हैं कि इस गाने पर रानू को रेशमिया ने सात लाख रुपए का भुगतान किया है। इस तरह आज 59 वर्षीय क्रिश्चियन महिला रानू मंडल अब रातोरात बॉलीवुड की स्टार सिंगर बन चुकी हैं। सूचना है कि वह अब सलमान खान और अक्षय कुमार की फिल्मों में भी अपनी आवाज़ का जादू बिखरने वाली हैं। 

 

niraj kumar

एक बेहतरीन हिंदी स्टोरी राइटर , और समाज में अच्छीबातोंको ढूंढ कर दुनिया के सामने उदाहरण के तौर पे पेश करते है |
niraj kumar

Latest posts by niraj kumar (see all)