इसमें कोई शक नहीं है की पटना में डेंगू बुखार ( Dengue Fever In Patna ) एक महामारी का रूप ले चूका है |  राजधानी पटना में डेंगू के बुखार ने बड़ी तादाद में लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है |  इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि शहर के पीएमसीएच, आईजीआईएमएस  IGIMS आदि सरकारी अस्पतालों में रोजाना करीब 100 से 200  मरीज डेंगू की जांच कराने पहुंच रहे हैं जिनमे से आधे से अधिक लोग डेंगू के मरीज पाए गए हैं |

Dengue Fever In Patna

सिर्फ पी.एम.सी.एच में 1195 मरीज

अकेले अब तक सिर्फ पी.एम.सी.एच ( PMCH ) में 1195 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है जबकि राज्य में मरीजों की संख्या बढ़कर 1543 हो चुकी है |  पटना के PMCH में जांच में 114 नए मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है |ये तो सरकारी आंकड़े हैं,पर हकीकत में इस से कई गुणा अधिक लोग हैं डेंगू बुखार से पीड़ित इतना हीं नहीं  पटना में डेंगू की चपेट ( Dengue Fever In Patna ) में बीजेपी के विधायक भी आ गए हैं |  पटना के दीघा इलाके से बीजेपी के विधायक संजीव चौरसिया को भी डेंगू हो गया है, इसकी पुष्टि जांच में हुई है |

Dengue Fever In Patna

पीड़ित में हर उम्र के लोग हैं

सरकारी आंकड़ों के अनुसार सोमवार की रात डेंगू की वजह से पटना में मौत का पहला मामला सामने आया जिसमे डेंगू ने 7 साल के एक बच्चे अभिनव की जान ले ली,पर ये आंकड़े कितने सही है यह सभी जानते हैं | इलाज व् जानकारी के आभाव में अब तक दर्जनों की जान जा चुकी है | पटना पुलिस लाइन में भी डेंगू का कहर जोर पकड़ता जा रहा है | पुलिस लाइन में  डेंगू से लगभग तीन दर्जन दारोगा और सिपाही पीड़ित हैं |

मदद को आई कई संस्थाएं

पटना में बाढ़ के बाद महामारी का रूप ले चुके डेंगू बुखार से पीड़ित मरीजों के सेवार्थ पटना के कई कई संस्थाए बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रही है | पटना की बेटी शिखा मेहता के नेतृत्व में चल रहे यु-ब्लड बैंक के समर्पित मेम्बरों ने मिलकर वैसे मरीज जो पैसे के अभाव में  डेंगू की जाँच नहीं करा पाते हैं उनके लिए 13-10-2019 को मुफ्त स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया था |

इस शिविर में  156 लोगों ने अपने स्वास्थ्य की जांच कराई जिसमें मलेरिया ,डेंगू ,शुगर ,ब्लड प्रेशर की जांच बिल्कुल मुफ्त में की गई और 56 लोगों का डेंगू पॉजिटिव पाया गया था |

Dengue Fever In Patna

डेंगू में बरते सावधानी

डेंगू से भयभीत होने की कतई जरूरत नहीं है। यह सामान्य बुखार है और इसका समुचित इलाज संभव है। इलाज के बाद मरीज पूरी तरह से ठीक हो सकता है। डेंगू की जांच की रिपोर्ट एक दिन में ही मिल जाती है। डेंगू की शिकायत मिलने पर चिकित्सक की सलाह पर पारासिटामोल का सेवन करें। इसके अलावा नारियल पानी लेते रहें। घर में आराम करना बहुत जरूरी है। ज्यादा तबीयत बिगड़ने पर नजदीक के किसी अस्पताल में भर्ती हो सकते हैं।

niraj kumar

एक बेहतरीन हिंदी स्टोरी राइटर , और समाज में अच्छीबातोंको ढूंढ कर दुनिया के सामने उदाहरण के तौर पे पेश करते है |
niraj kumar