अलीबाबा ग्रुप के चेयरमैन जैक मा ने 10 सितंबर को अपने 55वें जन्मदिन के अवसर पर कंपनी की बागडोर छोड़ दी। जैक मा ने कंपनी की बागडोर डैनियल झांग को सौंप कर रिटायरमेंट ले लिया है। डेनियल फिलहाल कंपनी के सीईओ हैं। कंपनी के को-फाउंडर जोसफ साई एग्जिक्यूटिव वाइस चेयरमैन के पद पर बने रहेंगे। माना जा रहा है कि अलीबाबा से रिटायर होने के बाद जैक मां अब शिक्षा के क्षेत्र में काम पर फोकस करेंगे। 10 सितंबर 1964 को चीन के हन्ग्ज़्हौ, ज्हेजिंग में जन्में जैक मा की सक्सेस स्टोरी अविश्वसनीय है।

 

अब टीचिंग और समाजसेवा पर ध्यान देंगे

अलीबाबा को इस ऊंचाई तक पहुंचाने वाले जैक मा ने अपनी करियर की शुरुआत एक अंग्रेजी टीचर के तौर पर की थी। लेकिन आज वे दुनिया के सबसे अमीर शख्स में से एक हैं। अलीबाबा से रिटायर होने के बावजूद मा अगले साल तक अपने वार्षिक आम शेयरधारकों की बैठक तक अलीबाबा के बोर्ड में अपनी सेवाएं जारी रखेंगे। वह सलाहकरा के तौर पर कंपनी से जुड़े रहेंगे। मा अपनी 41.7 अरब डॉलर की दौलत को एजुकेशन से जुड़े कामों को प्रमोट करने में लगाएंगे। बता दें कि कंपनी से रिटायर होने के जैक मा के फैसले ने भले ही सभी को चौंका दिया हो लेकिन इसकी तैयारी काफी पहले से चल रही थी। बीते साल से ही कंपनी के हैंडओवर की तैयारियां चल रही हैं। तब मा ने कहा था कि वह कंपनी से अलग होकर परोपकार समाज से जुड़े कार्यों पर फोकस करना चाहते हैं।

 

2014 में हुई थी जैक मा फाउंडेशन की शुरुआत

जैक मा ने भी माइक्रोसॉफ्ट के बिल गेट्स के बिल ऐंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की तरह 2014 में जैक मा फाउंडेशन की शुरुआत की थी। गौरतलब है कि मा ने 2013 में अलीबाबा के सीईओ का पद छोड़ा था। तब जोनाथन लू ने उनकी जगह ली थी। 2015 में लू की जगह कंपनी के पूर्व सीओओ झांग ने ले ली। पहले सीईओ और अब इसके अध्यक्ष के रूप में, झांग ने अलीबाबा की बागडोर को संभाला है। हालांकि उनके सामने एक दशक तक धमाकेदार ग्रोथ के बाद चीन के ई-कॉमर्स बाजार में आई मंदी का सामना करना एक बड़ी चुनौती है।

अलीबाबा शुरू करने से पहले इंग्लिश टीचर थे जैक मा

चीन के अलीबाबा ग्रुप के चेयरमैन जैक मा (55) मंगलवार को रिटायर हो गए। उन्होंने सीईओ डेनियल झांग (47) को कमान सौंप दी। मा ने रिटायरमेंट का ऐलान एक साल पहले ही कर दिया था। इस दौरान वे झांग को कामकाज समझा रहे थे। जैक मा अब टीचिंग और परोपकार के कामों से जुड़ेंगे। 1999 में अलीबाबा की शुरुआत करने से पहले वे इंग्लिश के टीचर थे। रिटायरमेंट के लिए उन्होंने अपने जन्मदिन और टीचर्स डे का दिन चुना। जैक मा का आज जन्मदिन भी है। चीन में टीचर्स डे 10 सितंबर को होता है। मा अगले साल तक सलाहकार के तौर कंपनी के बोर्ड में बने रहेंगे।