शायद हीं कोई भारतीय होगा जिसे लस्सी पसंद ना हो, लस्सी शब्द के नाम मात्र से हीं मन में मलाई और दही की तस्वीर उभरने लगती है | वैसे तो लस्सी पजाबियों का पसंदीदा पेय है, लेकिन पुरे भारत में इसे बड़े शौक से पिया जाता है, और अगर बात लस्सी की हो तो बनारसी लस्सी की चर्चा मुख मंडल से निकल हीं आती है ! और आये भी क्यों नहीं बनारसी लस्सी की भी अपनी अलग खासियत और पहचान है। काशी में ज्यादातर विदेशी इसके मुरीद हैं। यह लस्सी पारंपरिक लस्सी से कुछ हटकर होती है। भारत यात्रा के दौरान विदेशी सैलानी बनारसी लस्सी का लुत्फ लेना नहीं भूलते। 

भारतीय के अलावा विदेशी भी है बनारसी लस्सी के दीवाने

बनारस सिर्फ बनारसी साड़ी और बनारसी पान के लिए हीं नहीं बल्कि बनारसी लस्सी के लिए भी मशहूर है |  यहां की हुड़दंगई और मस्ती की बात ठंडई और लस्सी का जिक्र किए बगैर पूरी नहीं होती। यहां की तकरीबन हर तंग गलियों में आपको लस्सी की दुकानें मिल जाएंगी। इन दुकानों पर रोजाना सुबह-शाम विदेशी सैलानियों का जमावड़ा लगता है। खासकर अमेरिका, जर्मनी, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, कोरिया, चीन आदि देशों के लोग इस लस्सी का स्वाद जरूर चखते हैं। बनारसी लस्सी की भी अपनी अलग खासियत और पहचान है। काशी में ज्यादातर विदेशी इसके मुरीद हैं। यह लस्सी पारंपरिक लस्सी से कुछ हटकर होती है। बाजार में इसके कुल 75 फ्लेवर मिलते हैं। इसमें चाकलेट, ऑरेंज, मिक्स फ्रूट, चटपटी लस्सी, मिर्ची वाली लस्सी और आम वाली लस्सी शामिल है। भारत यात्रा के दौरान विदेशी सैलानी बनारसी लस्सी का लुत्फ लेना नहीं भूलते।

फ्लेवर के हिसाब से तय होती है कीमत

वैसे तो हर गली मोहल्ले में आपको लस्सी की छोटी बड़ी दुकाने मिल जाएगी, जिसमें लस्सी के अनेकों फ्लेवर जैसे  मैंगो, ऑरेंज, पपाया, चॉकलेट, मिक्स फ्रूट, बनाना, कोकोनट, एप्पल, कॉफी के फ्लेवर शामिल है, आपको मिल जायेंगे ! साथ हीं आप जान लें की लस्सी की कीमत उसके फ्लेवर के हिसाब से तय होती है। आमतौर पर एक गिलास लस्सी की कीमत 10 रुपए से 125 रुपए तक है।

पहलवान लस्सी भण्डार, बनारस की बेहतरीन लस्सी की शॉप

अगर देखा जाए तो वाराणसी में एक से बढ़कर एक लस्सी की शॉप है पर लंका स्थित “पहलवान लस्सी भण्डार” एक बेहतरीन लस्सी की शॉप है जहाँ विभिन्न तरीके की लस्सी का आनंद लिया जा सकता है जैसे साधारण लस्सी, स्पेशल लस्सी, फ्रूट लस्सी एवं साल्टेड लस्सी। इनके लस्सी का खासियत विदेशों में भी जाने जाते हैं, अगर आप वास्तव में बनारस की लस्सी का आनंद लेना चाहते हैं तो एक बार जरूर “पहलवान लस्सी भण्डार” पधारें और मनोज यादव जी के हाथों की बनायीं हुई लस्सी का आनंद जरूर लें।