दोस्तों भले लोगों को लगता होगा की बकरी पालन ( Goat Farming )छोटा विषय है, पर ऐसी बात नहीं है | अगर आप बकरी पालन ( Goat Farming ) करना चाहते हैं या कर रहे हैं और बकरी पालन में सफलता ( Success In Goat Farming ) हासिल करना चाहते हैं तो बहुत सारे बातों का ख्याल रखना होगा तभी आपको बकरी पालन (Goat Farming )  में लाभ कमा सकते हैं वरना आपके लिए बकरी पालन घाटे (Loss In Goat Farming )का सौदा हो सकता है | तो आज चर्चा करेंगे  बकरी के प्रजनन के सम्बन्ध में जो बकरी पालन में सबसे अहम् विषय है

प्रेग्नेंट बकरी की पहचान (Identification Of Pregnant Goat) कैसे करें | GOAT FARMING

अगर आप बकरी पालक (Goat Farmer )हैं तो आपको जानना जरुरी है की हमारी बकरियां गाभिन (Pregnant Goat )है या नहीं | प्रेग्नेंट बकरी (Pregnant Goat )की पहचान बहुत हीं आसान है इस दौरान बकरी में कुछ लक्षण आ जाते हैं जिससे आपको पता चल जायेगा की (Pregnant Goat )बकरी वाकई प्रेग्नेंट है या नहीं

जैसे :- 1 बकरी जब प्रेग्नेंट (Pregnant Goat ) हो जाएगी तो भोजन के प्रति उसकी रूचि बढ़ जाती है

२. बकरी गर्भ धारण (Goat Conception )करने के बाद अपने मेमनो(Goat Lamb) से और बकरे से दुरी बना कर रखेगी

3 बकरी के गर्भ धारण करने से उसकी सुंदरता बढ़ जाती है और बार-बार पूंछ हिलाती है

4 बकरी जब गर्भ धारण कर लेगी तो शुरू में उसका थन सूखने लगता है

बकरी जब प्रेग्नेंट हो जाये तो उसे अन्य बकरियों से अलग कर दें | GOAT FARMING

बकरी के गर्भ धारण करने के बाद कुछ सावधानी बरतनी होती है उसमे से  महत्वपूर्ण है की गाभिन बकरी को अन्य बकरियों से अलग कर दें | ऐसा इस लिए कि बकरियां आपस में बहुत लड़ती है और ये इनका स्वभाविक गुण है अगर इस दौरान अगर कोई दूसरी बकरी इसे पेट में मार दे तो पेट में पल रहे बच्चे का नुकसान हो जायेगा

GOAT FARMING BUSINESS

यह भी पढ़े :

GOAT FARMING ( बकरी पालन ) में युवाओं के प्रेरणाश्रोत हैं ‘उमेश सर

गर्भ काल के दौरान भरपूर भोजन दें

बकरी के गर्भकाल के दौरान ऐसा देखा जाता है की शुरुवाती दौर में इनका खाने के प्रति रूचि बढ़ जाती है, पर बाद में भोजन करना कम कर देती है जबकि इस दौरान बकरी को पोषक तत्वों की ज्यादा जरूरत होती है तो बहुत सरे मिनरल्स मिक्सचर बाजार में उपलब्ध होते हैं जिसे आप अपने बजट के अनुसार खरीद कर बकरी को दे वरना बकरी जो बच्चा देगी वो काफी कमजोर होगा जिसे बचाना काफी मुश्किल हो जायेगा आपके लिए |

GOAT FARMING TIPS

जन्म के आधे घंटे के अंदर बच्चे को खीज जरूर पिलायें

लोगों में आम धारणा होती है की बकरी जब तक अपना जड़ नहीं गिरा देती है तब तक बच्चे को खीज नहीं पिलाना चाहिए, जबकि ये सरासर गलत है | खीज बच्चे के लिए अमृत के समान है और जन्म के तुरंत बाद बकरी के थन को पोटैशियम परमैग्नेट से सफाई कर के आधे घंटे के अंदर बच्चे को माँ का खीज पिलाना जरुरी होता है | इससे बच्चे के शरीर की रोग प्रतिरोधक  बढ़ जाती है

GOAT FARMING शुरू करने से पहले इस वीडियो को जरूर देखें : CLICK HERE TO WATCH NOW 

बकरी को प्रयाप्त मात्रा में दूध नहीं होने पर क्या करें

बकरी के बच्चे को लगभग दो महीने तक दूध की जरूरत परती है और अगर इस दौरान बकरी को प्रयाप्त दूध नहीं हो रहा है तो बकरी पालक (Goatr Farmer) दुधारू नस्ल  (Milch Breed Of Goat )जैसे सोजत (Sojat Goat Breeds )या बीटल नस्ल (Beetal Goat)की बकरी भी पाले ताकि ब्लैक बंगाल (Black Bangal )जैसी कम दूध देने वाली बकरी के बच्चे को आसानी से दूध मिल सके इसके अलावा आप गाय का दूध भी दे सकते हैं पर गाय का दूध बकरी के बच्चे (Goats Lamb )के लिए पचने के हिसाब से थोड़ा भारी होता है इसलिए गे के दूध के साथ आप बच्चे को पचने के लिए दवा का इस्तेमाल करें

Niraj Kumar
Latest posts by Niraj Kumar (see all)