Archives for Articles

Articles

‘जय माँ काली बखोरापुर वाली’ कभी सुने है इसके बारे में आइये आप को परिचित कराते हैं बखोरापुर के भव्य 'काली मंदिर' से और बताते हैं उनकी महिमा

अक्सर आप किसी वाहन के पीछे ‘जय माँ काली बखोरापुर वाली’ लिखा हुआ देखते हैं तो आप के मन में ये सवाल उठता होगा की आखिर बखोरापुर कहाँ है तथा…
Continue Reading
Articles

एसिड अटैक की शिकार औरतों के लिए नई उम्मीद हैं ये परदेशी बिहार की एसिड अटैक की शिकार अनुपमा भी करा चुकी है सर्जरी

भारत में अक्सर एसिड हमलों (Acid Attack)के मामले देखने को मिलते हैं, लेकिन इससे जुड़ा कोई विश्वसनीय आंकड़ा मौजूद नहीं है | सरकारी आंकड़ों कि माने तो एक वर्ष में…
Continue Reading
Articles

प्रकृति का वरदान है ‘आंवला’ महर्षि चरक के अनुसार आंवले के सेवन से रक्त के समस्त विकार मिटते हैं और आमाशय, मूत्रशय एवं फेफड़ों की बीमारियां नहीं रहती और नेत्रों की ज्योति बढ़ती है

आंवला (Amla) एक ऐसा फल है जो प्रकृति (Nature)ने हमें वरदान(Gift) के रूप में दिया है। आंवले को प्रकृति(Gift Of Nature Amla) से ऐसा वरदान प्राप्त है कि सूखने, घिसने, जलाने…
Continue Reading
Articles

खुद के सपनों को बच्चों पर न थोपें (लघु कथा ) बच्चों से उम्मीद तो रखे पर दबाव ना डालें,कही ऐसा ना हो की दबाव और डांट डपट के चलते वे कोई गलत कदम उठा ले और आपको भारी खामियाजा भुगतना पड़े |

किसी शहर में एक शादी-शुदा महिला थी, उस महिला के पति दूसरे शहर में नौकरी करते थे | उन्दोनो की एक 16 वर्षीय बेटी भी थी | उस महिला ने…
Continue Reading
Articles

कहानी बिहिया के बहुचर्चित महथिन माई मंदिर की देवी सती शिरोमणि महथिन माई को लेकर श्रद्धालु महिलाओं की धारणा है कि इनकी आराधना से सुहाग सुरक्षित रहता है |

श्रद्धा और आस्था का प्रतीक महथिन माई का मंदिर आरा-बक्सर रेल मार्ग पर बिहिया स्टेशन से लगभग एक किलोमीटर पूरब रेल पटरी के किनारे स्थित है | सती शिरोमणि महथिन…
Continue Reading
Articles

ठंढ का मौसम में घर के बने पकवान का इस्तेमाल कीजिये और स्वस्थ रहिये सर्दियों में यदि खानपान पर विशेष ध्यान दिया जाए तो शरीर संतुलित रहता है और सर्दी कम लगती है।

ठंड के मौसम में सर्दी के असर से बचने के लिए लोग गर्म कपड़ों का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन शरीर को चाहे कितने ही गर्म कपड़ों से ढक लिया जाए ठंड…
Continue Reading
Articles

आइये आज जानते है अपने पटना के उन रास्तो का इतिहास जिसपर हमलोग रोजाना सफर करते है एक्जीबिशन रोड, कंकड़ बाग,बेली रोड,मंदिरी मोहल्ला,गर्दनीबाग,बोरिंग रोड इत्यादि के बारे में कैसे इन रास्तो का नाम पड़ा |

प्रदर्शनी के नाम पड़ा एक्जीबिशन रोड पटना का गाँधी मैदान पहले पटना लॉन के नाम से जाना जाता था | अंग्रेजों के समय से ही यहाँ प्रदर्शनी और मेले लगते…
Continue Reading