Archives for Doing The Different

Doing The Different

रेड लाइट एरिया के लगभग 500 बच्चों को शिक्षित कर स्कूल से जोड़ चुकी हैं बिहार की डॉ. उत्तिमा केसरी जब वे रेड लाइट एरिया में जाने की तैयारी कर रही थीं, तो आसपास के लोगों को आश्चर्य हुआ। पूछने लगे- एक महिला होकर आप वहां जाएंगी

वैसे तो रेडलाइट एरिया को लोग सामाजिक कलंक और गन्दगी के रूप में देखते हैं और ज्यादातर लोग इन में रहने वाले लोगों को समाज के मुख्य धारा में जोड़ने…
Continue Reading
Doing The Different

ये दोनों दोस्त नुक्कड़ नाटक के जरिये कुरीतियों के खिलाफ लोगों को करते हैं जागरूक समाज  घुली कुरीतियों के खिलाफ अपनी जिम्मेदारी का बहुत बेहतर तरीके से निर्वाह कर रहे हैं उत्तर प्रदेश के दो दोस्त विनय और आशीष

जैसे हमारा देश बड़ा हैं ठीक उसी तरह भारतीय समाज में फैली कुरीतियां भी अभी बहुत है | और जब तक हम इससे निजाद नहीं पाएंगे तब तक  एक सभ्य…
Continue Reading
Doing The Different

9 दिनों तक -35 डिग्री में पैदल चलकर, इस मां ने दिया अपने बच्चे को जन्म लद्दाख क्षेत्र में रहने वाले एक परिवार को गर्भवती महिला की सुरक्षित डिलिवरी के लिए शरीर को जमा देने वाले तापमान लगभग 73 किमी की दूरी तय करनी पड़ी थी

क्या हमने कभी सोचा है कि देश के उत्तरी हिस्से में अकल्पनीय ठंड के बीच रहने वाली महिलाएं भी 'मां' हैं। उन्हें भी मां बनने का और प्रेग्नेंसी के दौरान…
Continue Reading
Bihar

एक बिहारी रैपर जो पड़े सब पे भारी और लिख दी एक नयी ईबारत – अभिषेक टैलेंट अभिषेक इंडिया के पहले रैपर है जिसने भगवान कृष्ण के लीलाओ पर रैप बनाया और बन गए वो बिहार के पहले रैपर

सपने कौन नहीं देखता और देखने के पैसे भी नहीं लगते पर ये भी उतना ही सच है कि जिस सपने को सच करने पर इंसान उतारू हो जाता है…
Continue Reading
Doing The Different

मेट्रो पुल के नीचे चल रहा है गरीबों के बच्चों के लिए अनोखा स्कुल ‘द फ्री स्कूल अंडर द ब्रिज’ इस स्कुल में 300 वैसे बच्चे पढ़ते हैं जिनकी पैसे के आभाव में पढ़ाई छूट चुकी है या फिर पढ़ नहीं पाते हैं

वैसे तो देश में एक से बढ़कर एक स्कुल हैं पर बिना पैसे की खनक सुनाये उसमे दाखिला नहीं मिल सकता | तब गरीबों के बच्चों की शिक्षा - दीक्षा…
Continue Reading
Doing The Different

भारत का एक अनुकरणीय गांव जहां बेटी पैदा होने पर लगाए जातें हैं 111 पेड़ डेनमार्क के स्कुल सिलेबस में शामिल है राजस्थान के आदर्श गांव पिपलांत्री की कहानी

हमारा  पुरुष प्रधान समाज आज भले बेटियों के सुरक्षा को ले कर तरह-तरह के दावें करता हो पर सच्चाई यही है की आज भी हमारे समाज में कई जगहों पर…
Continue Reading
Doing The Different

कलयुग के श्रवण कुमार – मां को स्कूटर पर बिठाकर 17 तीर्थ स्थानों के कराए दर्शन अपनी मां की छोटी से छोटी ख्वाहिश पूरी करने वाले डॉ. कृष्णा कुमार माँ के साथ 48 हजार किलोमीटर यात्रा कर चुके हैं

जहां आज आधुनिक जीवन शैली में स्मार्ट फोन की दुनिया में हीं लोग व्यस्त रहते हैं, और स्वयं को मॉडर्न और सुशिक्षित कहने वाले लोग वृद्धजनों की सेवा करना तो…
Continue Reading
Bihar

किन्नरों की आवाज़ हैं बिहार की ‘रेशमा प्रसाद’ बिहार की रेशमा प्रसाद ट्रांसजेंडर हैं और ‘दोस्ताना सफर’ संगठन के जरिए ट्रांसजेंडर समुदाय की बेहतरी के लिए करती हैं काम

सामाजिक जीवन का ताना-बाना पुरुष और स्त्री के बीच हीं सिमटा रहता है पर इन के अलावा  तीसरा जेंडर भी हमारे समाज का हिस्सा है, लेकिन  इसकी पहचान कुछ ऐसी…
Continue Reading
Doing The Different

बीमार लोगों के लिए मसीहा मेडिसीन बाबा, दिव्यांग होने के बावजूद लोगों की करते हैं हरसंभव मदद मेडिसिन बाबा जो बमुश्किल अपने पैरों से चल पाते हैं पर इनके हौसलों के पैर में मानो पंख लगे हों....

हम अपनी रोजमर्रा की  चिल्ल-पौं में इतने उलझे रहते हैं कि यह सोंच हीं नहीं सोच पाते कि हमसे बाहर भी एक दुनिया है और उसमें लोग रहते हैं |…
Continue Reading
Bihar

एक दिलेर आशिक माउंटेन मैन दशरथ मांझी जिनकी ‘दास्तां’ आने वाली कई पीढ़ियों को सबक सिखाती रहेगी शुरू में तो दशरथ माँझी के प्रयास का मज़ाक उड़ाया गया पर उनके इस प्रयास ने गेहलौर के लोगों के जीवन को सरल बना दिया

दशरथ मांझी, एक ऐसा नाम जो इंसानी जज़्बे और जुनून की बेजोड़ उदाहरण  है | दशरथ मांझी ( Dashrath Manjhi ) नाम है उस दीवानगी का, जो प्रेम की खातिर…
Continue Reading