Archives for Doing The Different

Doing The Different

महाराष्ट्र की नासरी चौहान जैविक खेती के जरिये बदल रही हैं किसानों की तकदीर नासरी को डॉ. पंजाबराव कृषि विद्यापीठ, अकोला ने अपना ब्रांड अंबेसडर बनाया है। देश में किसानो की स्थिति सही नहीं है, सरकार की तमाम कोशिशों और दावों के बावजूद क

एक बहुत पुराना नुस्खा है, जब समस्या बहुत बढ़ जाए तो मूल की ओर लौटो. आज देश में किसानों के आत्महत्या की बढ़ती घटनाओं ने साफ कर दिया है कि…
Continue Reading
Doing The Different

एक शाम कहानीघर के कहानिबाजों के नाम , मशहूर स्टोरीटेलर निलेश मिश्रा ने किया “कहानिबाज” पुस्तक का लोकार्पण कहानीघर द्वारा पटना के प्रेमचंद रंगशाला में पहली बार "कहानीबाज 2017 " का आयोजन किया गया , देश भर से चुनी गयी सर्वश्रेष्ठ 51 कहानियाँ

हजारों बच्चे , सैकड़ो कहानियाँ और उनमें सर्वश्रेष्ठ 51 कहानियां , ये काम किसी सागर से मोती चुनने से कम नहीं है |  देशभर से ऐसे ही मोतियों को चुनकर…
Continue Reading
Doing The Different

उम्र 92 वर्ष की थीं जब एक लाख से अधिक डिलिवरी कराने वाली पद्मश्री डॉ. भक्ति यादव का निधन हुआ 2017 में ही पद्मश्री सम्मान से नवाजी गई थी महान समाजसेवी डॉक्टर भक्ति यादव

आज भारत की जनसँख्या एक अरब इक्कीस करोड़ है, पर इतने लोगो में कुछ एसे शख्स होते है जो अपने जीवन काल में कुछ एसा कर गुजरते हैं जिसकी गूंज…
Continue Reading
Doing The Different

“जो जीवन की धूल चाट कर बड़ा हुआ है, तूफ़ानों से लड़ा और फिर खड़ा हुआ है….” जरूरतमंद महिलाओ में आत्मनिर्भरता बढाती ” सुमन संथोलिया” सुमन के अनोखे आईडिया ने जन्म दिया “आकृति आर्ट क्रिएशन” का जो 250 जरूरतमंद औरतों को अपने हुनर को तरासने का मौका दे रही है

"कहावत है जहां चाह वहां राह। कई लोग अपनी मंजिल को पाने के लिए आसान रास्ता चुनने की बजाए कठिन रास्तों को ही चुनना पंसद करते हैं"। जी हां, ये बात…
Continue Reading
Doing The Different

पुराने जूते में नई जान डालकर कर रहा हैं सामाजिक कल्याण के साथ-साथ पर्यावरण की सुरक्षा : Greensole घिसे पिटे, बेकार, रद्दी जूते-चप्पलों को एक नया लुक देते है मुम्बई के श्रीयंस भंडारी और रमेश धामी जो ग्रीन्सोल के फाउंडर्स है

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन (WHO) के सर्वे के अनुसार देशभर में लगभग 30 से 35 करोड़ ऐसे जूते-चप्पल हैं जिन्हें हम इस्तमाल नहीं करते हैं और जिन्हें हम फेक देते हैं…
Continue Reading
Doing The Different

मिलिए इस यंग यूएन लीडर से जो चला रहे हैं गरीब भूखों के लिए एक अनोखा अभियान – अंकित कवात्रा अंकित कवात्रा जिसने अपनी कॉर्पोरेट वाली नौकरी छोड़ फीडिंग इंडिया नाम एक संगठन बनाई, वह एक ऐसे भारतीय हैं जो यूएन के यंग लीडर्स फॉर सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स के लिए चुने गए हैं, उनकी यह प्रभावशाली काम को ब्रिटिश के महारानी ने भी सराहा है |

जैसा की हम सब यह जानता हैं की भारत में शादियां कितनी शान-ओ-शौकत, धूमधड़ाके के से साथ होती है | इस दिन के लिए लोग अपना सालों की मेहनत लगा…
Continue Reading
Doing The Different

श्रीकांत बोला जो की जन्म से ही नेत्रहीन है इसके बावजूद इन्होने “Bollant Industries” के नाम से एक कंपनी शुरू की है। श्रीकांत बोला, जिसने अपने जज़्बे को कायम रखा और अपनी मंज़िल को पाने का केवल रास्ता ही नहीं बनाया और उसे हासिल भी किया।। यही नहीं इस कंपनी का सलाना turnover 80 करोड़ से भी ज्यादा का है|

दोस्तों, हौसला हो तो क्या नहीं पाया जा सकता। इंसान में सच्ची प्रतिभा और लगन होनी चाहिए, बस फिर कोई भी कठिनाई चाहे वो शारीरिक हो, पारिवारिक या फिर आर्थिक…
Continue Reading
Doing The Different

‘ ज्ञानशाला ‘ उन सभी गलियों में ज्ञान का प्रकाश फैलता है जहां अभी तक अक्षरों का उजाला नहीं पहुंचा है ऋषिकेश नारायण सिंह ने स्लम में रहने वाले बच्चों के लिये खोली है 'ज्ञानशाला', इस मुफ्त शिक्षा केंद्र में संवारे जाते है बच्चों के भविष्य

ये वो शख्स है जो किसी के सामने झुक कर अपनी पहचान नहीं बनाता है , जो अपनी जमीं , अपना आसमान खुद बनाता है | कौन क्या सोचता है…
Continue Reading
Doing The Different

करीमूल हक़ निस्वार्थ मानव सेवा के लिए वो काम करते हैं जिसकी हम सिर्फ कल्पना ही कर सकते हैं करीमूल हक़ 24 धंटे निःशुल्क बाइक एम्बुलेंस सेवा अपने गांव व आसपास के दर्जनों गांवों के जरूरतमंदों के लिए उपलब्ध कराते है

मुसीबते हमारी ज़िंदगी की एक सच्चाई है। कोई इस बात को समझ लेता है तो कोई पूरी ज़िंदगी इसका रोना रोता है। ज़िंदगी के हर मोड़ पर हमारा सामना मुसीबतों से होता है…
Continue Reading
Doing The Different

मिशन-50 संस्था बिना शुल्क के बिहार के गरीब और प्रतिभावान युवाओं को बना रही है IAS देश की सर्वश्रेष्ठ परीक्षा पास करा कर ' डॉ आनंद राज ' बिखेरते है दूसरों की जिन्दगी में खुशियाँ , सिविल सेवा के लिए देते है नि:शुल्क कोचिंग

दुनिया में विद्वत्ता और हुनर से लेकर समाज सेवा  की तमाम कसौटियों पर खरा उतरने वाले इंसानों की कमी नहीं है  , पर कोई लोक कल्याण की भावना के साथ…
Continue Reading