Tag archives for स्वामी चैतन्य कीर्ति

Inspiring Thoughts

नैसर्गिकता का आलिंगन करो : स्वामी चैतन्य कृति

"बर्नार्ड शा  ने कही एक बार कहा था कि 'मैं ऐसी  सभ्यता का अथवा महानता का क्या करू, जिसमे मुझे किसी चौराहे पर नाचने में शर्म आती हो या प्रतिबन्ध हो. मुझसे अच्छे तो वे आदिवासी लोग है जो…
Continue Reading
Inspiring Thoughts

जवानी और जोश

"आपने अक्सर लोगो को यह कहते सुना होगा कि अमुक जवान व्यक्ति में जोश तो बहुत है ,लेकिन होश नहीं  है. जहाँ  जोश के साथ होश नहीं जुड़ा है वहां जोश केवल हिंसा पैदा करता है . जवानी केवल जोश हो तो समाज में सिकंदर और चंगेज खान पैदा होते है .इसके विपरीत ,जोश के…
Continue Reading