आजादी के बाद राजतंत्र ख़त्म होने के बावजूद बिहार के हथुआ में कोई अंतर नहीं पड़ा है |वर्ष 1956 में जमींदारी उन्मूलन कानून लागु हो गया था जिसमे राजतंत्र समाप्त…
Continue Reading