Tag archives for Inspiring Stories - Page 3

Dynamic Youths

दो युवाओ ने कॉलेज में शुरू की स्टार्टअप आज है करोड़ो के मालिक उन्होंने 10 लाख रुपये का इंतजाम कर अपनी खुद की डिजाइन की हुई टीशर्ट्स ई-कॉमर्स बाजार में बेचना शुरू किया और ‘यंग ट्रेंड्ज’ नाम से अपना खुद का ब्रांड बनाया

हमारा भारत युवाओं का देश है जिसके आंखों में नई उम्मीद के सपने, नयी उड़ान भरता हुआ चंचल मन, कुछ कर दिखाने का दमखम और दुनिया को अपनी मुट्ठी में करने का साहस…
Continue Reading
Doing The Different

अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए ठेले पर चाय बेचती है आरती केंद्रीय दूरसंचार राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने भी आरती के दुकान पर जाकर चाय पिए है |

हमारे समाज में  आस-पास अनगिनित लोग संघर्षों से लड़कर अपनी जिंदगी संवार रहे होते हैं, पर हमें पता ही नहीं होता | आज की हमारी कहानी भी  उत्तर प्रदेश के…
Continue Reading
Featured

अपनी दिव्यांगता को मात दे मोहित ने बॉडी बिल्डिंग में कैरियर बनाया नेशनल बॉडी बिल्डिंग चैम्पियनशिप में तीन गोल्ड, दो सिल्वर और दो ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किए हैं |

आज की कहानी एक एसे जांबाज की है | जिसने 11 साल की उम्र में ही बोन कैंसर होने के कारण एक पैर गंवा दिया, पर कैंसर के आगे घुटने…
Continue Reading
Bihar

बिहार के यतीन्द्र कश्यप अपने मेहनत के बदौलत बने लोगो के आदर्श यतींद्र कश्यप आज मछलीपालन के व्यवसाय से सालाना 90 लाख तक की आमदनी कर रहे है|

बाढ़ की विभीषिका से बुरी तरह बेहाल बिहार के 16 जिलों में से एक मोतिहारी का भी नाम आता है, इस विभीषिका का दंश झेल रहे मोतिहारी निवासियों के लिए रोजी-रोटी के लिए मोतिहारी से पलायन…
Continue Reading
Doing The Different

एक अनोखा पर्यावरण प्रहरी : नरसिंह रंगा बिना किसी सरकारी अनुदान या सहायता के नर्मदा नदी के किनारे 11 किलो मीटर में उगा दिया जंगल

वन सम्पदा हमारी अमूल्य धरोहर है ये प्रकृति का दिया हुआ सर्व श्रेष्ठ उपहार है | ये वातावरण में मौजूद धुल के कण धूआं तथा अन्य हानिकारक तत्वों की मात्रा…
Continue Reading
Dynamic Youths

अपनी मेहनत और लगन के बदौलत वरुण बने आईएएस ऑफिसर कभी वरुण साइकिल की दुकान चालते थे मगर अपनी लक्ष्य को पाने की जूनून ने उन्हें सफलता का परचम लहरा दिया ।

दोस्तों कोई भी व्यक्ति अगर मन में ठान ले तो वह असम्भव को भी संभव कर सकता है। कहते हैं जहां चाह है, वहां राह है। अगर हौसले बुलंद हों…
Continue Reading
Doing The Different

दिव्यांग होने के बावजूद तारा बाई ने एक मिशाल पेश की है पौधों की पतियां को छूकर समझ जाती है कि पौधा किस सब्जी का है |

ब्रेल लिपि के सहारे दुष्टिहिन व्यक्ति पढ़-लिख कर आगे बढ़ सकता है आत्मनिर्भर बन सकता है लेकिन इन दुष्टिहिन ग्रामीण महिलाओं के लिए ब्रेल लिपि उतनी सहायक नही हो सकती…
Continue Reading
Doing The Different

अपने स्वरोजगार से युवाओं का लिए बन रहे है प्रेरणा के श्रोत : कविन्द्र सिंह पशुओं से प्राप्त गोबर का सही इस्तेमाल करने के लिए उन्होंने तीन टन का गोबर गैस प्लांट लगाया इससे उन्हें रोजाना 30 किलोग्राम गैस मिलती है

दोस्तों आज-कल हर युवा को नौकरी के पीछे भागते देखा जा सकता है अगर वो नौकरी उसे मिल भी जाता है हो उससे वो अपने सपने पुरे नहीं कर सकता…
Continue Reading
Doing The Different

गांवों में कर रहे हैं स्वस्थ भारत का निर्माण : डॉ. सुमित दुबे इन्होने ग्रामीण क्षेत्रों में डेंटल चिकित्सा कैंप लगाकर न केवल लोगों का समय बचाया है बल्कि कम पैसों में इलाज़ देकर उनका पैसा भी बचाया है।

आधुनिकीकरण के इस दौर में जहाँ लोग इंसानियत तक को भूल गये हैं वहीं आज भी कुछ लोग हैं जिन्होंने अपनी मानवता पूर्वक कार्य  से मानवता की एक अलग परिभाषा…
Continue Reading
Entrepreneurship / Business

रेस्टोरेंट में आया आईडिया से करोड़ो की कंपनी खड़ी की : साहिल बरुआ डिलिवरी की समस्या सुलझाने के समय आया आईडिया यहीं से डेल्हीवेरी का जन्म हुआ।

कहते हैं कि रास्ता कोई भी हो एक यूनिक आइडिया आपकी लाइफ बना सकता है। कुछ ऐसा ही एक आइडिया आईआईएम में पढ़ चुके साहिल बरुआ और उनके दोस्तों को…
Continue Reading